तांडव' वेब सीरीज बनाने वालों के खिलाफ एफ़आईआर दर्ज

    दिनांक 18-जनवरी-2021   
Total Views |
हिन्दू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाने और उन्हें अमर्यादित तरीके से फिल्माने का दौर अब खत्म हो गया है. लगता है ये बात सैफ अली खान और तांडव वेब सीरीज बनाने वालों को मालूम नहीं थी. तांडव वेब सीरीज का विरोध अभी शुरू ही हुआ था कि उत्तर प्रदेश में तांडव वेब सीरीज की टीम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है।
ff_1  H x W: 0

हिन्दू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाने और उन्हें अमर्यादित तरीके से फिल्माने का दौर अब खत्म हो गया है. लगता है ये बात सैफ अली खान और तांडव वेब सीरीज बनाने वालों को मालूम नहीं थी. तांडव वेब सीरीज का विरोध अभी शुरू ही हुआ था कि उत्तर प्रदेश में तांडव वेब सीरीज की टीम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है।

बॉलीवुड अभिनेता  सैफ अली खान की वेब सीरीज ‘तांडव’ का पूरे भारत में विरोध हो रहा है. इसी बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने सख्त कदम उठाते हुए ‘तांडव’ वेब सीरीज बनाने वाली टीम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है.

लखनऊ पुलिस के वरिष्ठ उप निरीक्षक अमरनाथ यादव ने तहरीर देकर इस मामले में एफआईआर दर्ज कराई. ‘तांडव’ वेब सीरीज को रिलीज कराने वाले ओटीटी प्लेटफॉर्म, अमेज़न प्राइम वीडियो की ओरिजनल कंटेंट हेड-अपर्णा पुरोहित, तांडव वेब सीरीज़ के निर्देशक अली अब्बास जफर, निर्माता हिमांशु कृष्णा मेहरा और लेखक गौरव सोलंकी को नामजद किया गया है.

आरोप है कि वेब सीरीज़ ‘तांडव’ के पहले एपिसोड में हिन्दू देवी-देवताओं को अमर्यादित तरीके से दर्शाया गया है. इस फिल्मांकन से धार्मिक भावनाओं को भड़काने का प्रयास किया गया है. पहले एपिसोड में ही जातिगत भावनाओं को भड़काने वाले डायलाग भी फिल्माया गया है. इसके साथ ही भारत के प्रधानमंत्री का प्रद ग्रहण करने की भूमिका जिसने निभाई है,

उसका फिल्मांकन अत्यंत अमर्यादित तरीके से किया गया है.वेब सीरीज़ में महिलाओं का भी अपमान किया गया है. उत्तर प्रदेश में साधु–संतों ने भी वेब सीरीज का विरोध किया है. मांग की गई है कि वेब सीरीज का इंटरनेट पर प्रचार प्रसार रोका जाए.