सनातन धर्म में वापसी करने पर देव प्रकाश को ज़िंदा जलाने का प्रयास, अली अहमद और इम्तियाज गिरफ्तार

    दिनांक 04-जनवरी-2021   
Total Views |
 
अली अहमद, अकबर और इम्तियाज को यह बात बहुत नागवार गुजर रही थी कि मोहम्मद अनवर ने हिन्दू धर्म में वापसी कर ली थी. उसने अपनी तीनों संतानों का नाम भी हिन्दू धर्म के अनुसार कर दिया था. तब से अभियुक्त उसे धमकी दे रहे थे. अंततः ज़िंदा जला कर मारने का प्रयास किया. अब एफआईआर दर्ज कर दो को गिरफ्तार किया गया है. 
hhh_1  H x W: 0
 
उत्तर प्रदेश स्थित रायबरेली जनपद में तीन महीने पहले एक परिवार इस्लाम छोड़ कर हिन्दू हो गया. सनातन धर्म में वापसी के बाद से कुछ मुसलमान उससे नाराज हो गए थे. ऐसे में कुछ कटृटरपंथियों ने उसे धमकी भी दी थी। लेकिन हद तो तब हो गई जब गत शनिवार की रात मुस्लिम युवकों ने पीड़ित परिवार को घेर कर आग लगा दी। पीड़ित परिवार को ज़िंदा जला कर मारने का प्रयास किया गया.

मगर किसी तरह से सभी लोग सुरक्षित बच गए. फायर ब्रिगेड ने मौके पर पहुंच कर आग बुझाई. घटना के बाद पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे और एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी. अभी तक पुलिस ने दो अभियुक्त गिरफ्तार किये गए.

उल्लेखनीय है कि रायबरेली के सलोन कोतवाली अंतर्गत अतागंज रतासों गांव में मोहम्मद अनवर ने करीब तीन माह पूर्व इस्लाम मज़हब छोड़ कर हिन्दू धर्म में घर वापसी कर ली थी. हिन्दू धर्म में घर वापसी के बाद उसका नामकरण देव प्रकाश पटेल हुआ. देव प्रकाश की तीन संताने हैं.

देव प्रकाश ने तीनों का हिन्दू नामकरण किया. उनकी पत्नी की काफी पहले मृत्यु हो चुकी है. देव प्रकाश, अपने घर के बगल में स्थित जमीन पर मंदिर बनवाने जा रहा था. इस बात से अली अहमद, इम्तियाज आदि कुछ मुस्लिम युवक नाराज हो गए. इसी को लेकर अभियुक्तों ने देव प्रकाश पटेल के घर का दरवाजा बाहर से बंद कर आग लगा दी. इस घटना की सूचना पुलिस को दी गई. पुलिस और फायर ब्रिगेड ने मौके पर पहुंचकर आग बुझाई.