विदेशी राजनयिक कर सकते हैं जम्मू—कश्मीर का दौरा, परखेंगे जमीनी हकीकत

    दिनांक 16-फ़रवरी-2021
Total Views |
jammu_1  H x W: 
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 निरस्त होने के करीब डेढ़ साल बाद एक बार फिर विदेशी राजनयिकों का प्रतिनिधमंडल जम्मू-कश्मीर का दौरा करेगा। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार विदेशी राजनयिकों का प्रतिनिधिमंडल 18 फरवरी को कश्मीर और 19 फरवरी को जम्मू का दौरा कर सकते हैं। खबरों के मुताबिक इस बार जम्मू-कश्मीर के दौरे पर जाने वाले प्रतिनिधिमंडल में खाड़ी और यूरोपीय देशों के राजनयिक शामिल होंगे। वहीं इस दौरे में राजनियक हाल ही में निर्वाचित हुए डीडीसी के कुछ प्रतिनिधियों से भी मुलाकात कर सकते हैं।
इसके अलावा प्रतिनिधिमंडल सुरक्षा एजेंसियां के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात करके राज्य में सुरक्षा हालात की जानकारी भी प्राप्त करेंगे। अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक राजनयिकों का प्रतिनिधिमंडल कश्मीर में 18 फरवरी और जम्मू में 19 फरवरी को दौरा करेंगे। जम्मू दौरे के दौरान प्रतिनिधिमंडल के सदस्य उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से भी मुलाकात करेंगे।
गौरतलब है कि 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 निरस्त होने के बाद से जम्मू-कश्मीर के दौरे पर जाने वाला यह तीसरा प्रतिनिधिमंडल होगा। इससे पहले अक्टूबर 2019 में यूरोपियन संसद के 27 सदस्यों का एक प्रतिनिधिमंडल कश्मीर गया था, 2020 की शुरुआत में भी 25 सदस्यों का विदेशी प्रतिनिधिमंडल राज्य के दौरे पर गया था।