जम्मू में रोहिंग्या मुसलमानों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, शिविर छोड़कर भाग रहे

    दिनांक 08-मार्च-2021   
Total Views |
पिछले दिनों जम्मू-कश्मीर में रोहिंग्या मुसलमानों के खिलाफ कार्रवाई का सिलसिला शुरू हुआ। खबरों के मुताबिक 6 मार्च की देर शाम जम्मू संभाग में रहने वाले करीब 155 घुसपैठिये रोहिंग्या मुसलमानों को कड़ी सुरक्षा के बीच हीरानगर सब जेल में शिफ्ट किया गया। जम्मू-कश्मीर में रोहिंग्याओं को बाहर करने को लेकर, इसे बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है
bb_1  H x W: 0

पिछले दिनों जम्मू-कश्मीर में रोहिंग्या मुसलमानों के खिलाफ कार्रवाई का सिलसिला शुरू हुआ। अपुष्ट खबरों के मुताबिक 6 मार्च की देर शाम जम्मू संभाग में रहने वाले करीब 155 घुसपैठिये रोहिंग्या मुसलमानों को कड़ी सुरक्षा के बीच हीरानगर सब जेल में शिफ्ट किया है।

जम्मू-कश्मीर से रोहिंग्याओं को बाहर करने को लेकर अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है। सरकार आगे की कार्रवाई में इनकी पहचान आदि प्रक्रिया पूरी करके जल्द ही वापस इन्हें इनके देश भेज सकती है। इस बारे में डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल आफ पुलिस विवेक गुप्ता मीडिया से बात करते हुए कहते हैं कि जम्मू में रह रहे जिन रोहिंग्याओं के पास फोरेनर्स एक्ट और पासपोर्ट एक्ट के तहत भारत में प्रवेश करने के लिए पर्याप्त दस्तावेज नहीं है, को होल्डिंग सेंटर में भेजा जा रहा है।

बता दें कि इससे पहले जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने जम्मू में रह रहे रोहिंग्या मुसलमानों की बायोमिट्रिक जानकारी समेत अन्य विवरण जुटाने के लिए जम्मू के मौलाना आजाद स्टेडियम में बुलाया था। जो अपने साथ अपने पहचान पत्र व संयुक्त राष्ट्र की ओर से जारी विस्थापित कार्ड भी साथ ले आये थे। इसके अलावा कई रोहिंग्या मुसलमानों को पुलिस खुद भी उनके ठिकानों से लेकर आई थी, जिन्हें जांच के बाद वापस छोड़ा गया।