मेवात में एक बार फिर दिखा मजहबी उत्पात

    दिनांक 18-मई-2021   
Total Views |
हरियाणा का एक मात्र मुस्लिम—बहुल जिला है मेवात। आएदिन किसी न किसी बहाने यहां बवाल होता है। 17 मई को एक युवक की हत्या पर यहां के मुसलमानों ने ऐसा उत्पात मचाया कि पुलिस वालों को लाठी भांजनी पड़ी। स्थानीय हिंदुओं में डर पैदा करने के लिए आपसी रंजिश की घटना को मॉब लिचिंग बताया जा रहा है
nikita tomer_1  
निकिता तोमर की हत्या पर चुप रहने वाले अब एक आपसी रंजिश की घटना को मॉब लिंचिंग बता रहे हैं
 
गत 17 मई को हरियाणा के मुस्लिम—बहुल जिले मेवात में एक हत्याकांड की आड़ में कट्टरवादी तत्वों ने पुलिस बल पर हमला कर दिया। पहले तो कोरोना के नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए बड़ी संख्या में कट्टरवादी जमा हो गए और जिला मुख्यालय नूंह की मुख्य सड़क को बंद कर दिया। जब पुलिस उन्हें हटाने पहुंची तो स्थानीय विधायक आफताब अहमद के सामने ही मुसलमान युवा उन पर पत्थर फेंकने लगे। इन लोगों की मांग थी कि 16 मई को खेड़ा खलीलपुर गांव में आसिफ नामक एक युवक की हत्या के आरोपियों को जल्दी से जल्दी पकड़ा जाए। बता दें कि आसिफ ने कुछ समय पहले खेड़ा गांव की कुछ हिंदू लड़कियों का उस समय अश्लील वीडियो बना लिया था, जब वे लोग स्कूल के किसी कार्यक्रम के दौरान वस्त्र बदल रही थीं। इसके बाद वह उन लड़कियों का भयादोहन करता था। इस बात पर उन लड़कियों के घर वालों और आसिफ के बीच कई बार झड़प भी हुई थी। गांव के कई लोगों पर आसिफ ने हमले भी किए थे। बताया जा रहा है कि 16 मई को भी कुछ ऐसा ही हुआ, जिसमें आसिफ की मौत हो गई। हत्या के आरोप में छह लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। 

इसके बावजूद इस मामले को लेकर मेवात के मुसलमान हंगामा कर रहे हैं। इनका साथ वहां के मुस्लिम जन प्रतिनिधि भी दे रहे हैं। ये लोग इस आपसी रंजिश की घटना को 'मॉब लिचिंग' बताकर यह कहना चाहते हैं कि देखो हिंदू किस तरह मुसलमानों की हत्या कर रहे हैं। इससे आम मुसलमानों में गुस्सा बढ़ रहा है। लोगों को शांत करने के बजाय पुन्हाना के विधायक चौधरी मोहम्मद इलियास खान और उनके बेटे चौधरी जावेद खान मेवात के मुसलमानों को भड़काने में लगे हैं। इन दोनों ने एक रेखाचित्र ट्वीट कर आग में घी डालने का ही काम किया है। इसमें दिखाया गया है कि कुछ तिलकधारी लोग एक व्यक्ति को पेड़ से बांधकर उससे कह रहे हैं कि जय श्रीराम बोलो और जब वह नहीं बोलता है तो उसकी पिटाई की जाती है।

tt_1  H x W: 0
पुन्हाना के विधायक चौधरी मोहम्मद इलियास खान और उनके बेटे चौधरी जावेद खान का ट्वीट

यह वही मेवात है, जहां के रहने वाले तौसिफ ने पिछले साल 26 अक्तूबर को फरीदाबाद की छात्रा निकिता तोमर की हत्या इसलिए कर दी थी कि उसने उसके साथ निकाह करने से मना कर दिया था। तौसिफ नूंह के विधायक आफताब अहमद का रिश्तेदार है और इन दिनों जेल में उम्रकैद काट रहा है। उस समय आफताब ने एक शब्द भी नहीं बोला था। अब वही आफताब एक आपसी रंजिश में हुई हत्या को लेकर लोगों को भड़का रहे हैं।