पश्चिम बंगाल: राहुल ने जहां रैली की वहां कांग्रेस की जमानत भी नहीं बची

    दिनांक 04-मई-2021   
Total Views |
बंगाल में जिन दो विधानसभा क्षेत्रों में राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित किया था. वहां पर कांग्रेस की जमानत जब्त हो गई. कांग्रेस पार्टी की पश्चिम बंगाल में जबरदस्त हार हुई
rahul_1  H x W:

पश्चिम बंगाल के चुनाव के दौरान जब राहुल गांधी ने कहा था कि महामारी को देखते हुए अब वे अपनी रैली नहीं करेंगे. तब सोशल मीडिया पर सेकुलर लोग यह साबित करने में लग गए थे कि राहुल गांधी गंभीर व्यक्ति हैं. उनका मजाक उड़ाने के लिए जो उपनाम सोशल मीडिया पर रख दिया गया है. वह सचाई से परे है मगर चुनाव परिणाम आने के बाद यह मालूम हुआ कि जिन दो विधानसभा क्षेत्रों में उन्होंने जनसभा को संबोधित किया था. वहां कांग्रेस की जमानत जब्त हो गई.

पश्चिम बंगाल विधानसभा के चुनाव संपन्न हो गए. गत दो मई को नतीजे सभी के सामने आ गए. अब इसमे कोई हंसने की बात तो नहीं है मगर चुनाव परिणाम के इस विश्लेषण से कुछ लोगों को हंसी आ सकती है. पश्चिम बंगाल में जिन दो विधानसभा क्षेत्रों में राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित किया था. वहां पर कांग्रेस की जमानत जब्त हो गई. कांग्रेस पार्टी की पश्चिम बंगाल में जबरदस्त हार हुई. इतनी करारी हार क्यों हुई ? इस पर बजाय चिंतन और मंथन करने के राहुल गांधी ने ट्वीट किया “ममता जी को बधाई देते हुए मैं प्रसन्न हूं. पश्चिम बंगाल के लोगों ने भाजपा को हरा दिया.”  कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को अपनी पार्टी की हार पर कोई चिंता नहीं है. उन्हें इस बात की खुशी है कि भाजपा को सत्ता नहीं मिली. 

 
उल्लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मतिगारा-नक्सलबाड़ी और गोलपोखर विधानसभा क्षेत्र में गत 14 अप्रैल को रैली को संबोधित किया था. कांग्रेस इसके पहले मतिगारा-नक्सलबाड़ी विधानसभा सीट पर दो बार जीत हासिल कर चुकी थी.  परन्तु इस बार कांग्रेस प्रत्याशी की जमानत जब्त हो गई. गोलपोखर विधानसभा सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी तीसरे स्थान पर रहे और वहां पर भी जमानत हो गई. गत विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने इस सीट से जीत हासिल की थी.

 राहुल गांधी को कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष  वर्ष 2017 में बनाया गया था मगर  तब तक उनके खाते में कई हार दर्ज हो चुकी थी. उस समय भाजपा के वरिष्ठ नेता स्वर्गीय अरूण जेटली ने कहा था कि "  पूरी दुनिया  में शायद ही कोई ऐसा राजनीतिक दल का अध्यक्ष होगा जिसके खाते में इतनी हार दर्ज होगी."  यहां तक कि उत्तर प्रदेश मे कांग्रेस का गढ़ समझे जानी वाली सीट अमेठी से भी राहुल गांधी चुनाव हार चुके हैं.