उत्‍तर प्रदेश में गेहूं खरीद पुराना रिकॉर्ड टूटा, नया रिकॉर्ड बनाने की ओर

    दिनांक 18-जून-2021   
Total Views |
उत्‍तर प्रदेश की योगी आदित्‍यनाथ सरकार इस साल न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (एमएसपी) पर गेहूं खरीद का नया रिकॉर्ड बना सकती है। चालू रबी सत्र 2021-22 में राज्‍य सरकार ने 15 जून को ही गेहूं खरीद का लक्ष्‍य पूरा कर अपना ही पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है।
gahu_1  H x W:

भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) की कार्ययोजना के अनुसार, इस साल सरकार ने 427.36 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद का लक्ष्‍य तय किया है। 15 जून तक लक्ष्‍य से अधिक 428.77 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की जा चुकी है। देश के सबसे बड़े गेहूं उत्‍पादक राज्‍य में 55 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद का लक्ष्य रखा गया था। गेहूं खरीद की प्रक्रिया 22 जून तक चलेगी, लेकिन 15 जून तक ही राज्‍य सरकार 53.80 लाख टन गेहूं की खरीद कर चुकी है। बता दें कि उत्‍तर प्रदेश्‍ में 15 जून तक ही गेहूं की खरीद होनी थी। लेकिन मंडियों में आवक जारी रहने के कारण सरकार ने खरीद की तारीख 22 जून तक बढ़ा दी।

बीते दो सत्र में राज्‍य सरकार 55 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद का लक्ष्‍य पूरा नहीं कर पाई थी। केंद्रीय कृषि मंत्रालय के अनुसार, रबी मार्केटिंग सीजन 2019-20 में राज्‍य सरकार ने 55 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद का लक्ष्‍य रखा था, लेकिन 37 लाख मीट्रिक टन ही खरीद सकी थी। इसी तरह, 2020-21 में भी 55 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद का लक्ष्‍य निर्धारित किया गया था, लेकिन खरीद 35.77 लाख मीट्रिक टन की ही हुई थी। इस साल गेहूं खरीद के मामले में उत्‍तर प्रदेश चौथे स्‍थान पर है, जबकि पंजाब (132.10 लाख मीट्रिक टन), मध्‍य प्रदेश (128.09 लाख मीट्रिक टन) और हरियाणा (84.93 लाख मीट्रिक टन) क्रमश: पहले, दूसरे और तीसरे स्‍थान पर हैं।