पिछले चार माह में सबसे न्यूनतम स्तर पर पहुंचा कोरोना

    दिनांक 01-जुलाई-2021   
Total Views |
उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए ट्रिपल टी (टेस्ट, ट्रेस एवं ट्रीट)  की नीति पर काम करते हुए चिकित्सा व्यवस्था का विस्तार किया गया जिसका परिणाम है कि आज सर्वाधिक आबादी वाले प्रदेश में कोरोना संक्रमण बेहद कम हो गया है. वहीं एक्टिव केस की संख्‍या अब तीन हजार से कम हो गई है. प्रदेश में कोरोना रिकवरी रेट अब 98.5 फीसदी हो गया है.
upcoorna_1  H x

कोरोना महामारी की दूसरी लहर की स्थिति नियंत्रण में है. प्रदेश में अब तक  16 लाख 80 हजार 720 लोग कोरोना संक्रमण मुक्त हो चुके  हैं. अब तक 5 करोड़ 78 लाख 44 हजार 27 कोरोना की जांच की जा चुकी है.  पिछले 24 घंटों में प्रदेश में 2 लाख 57 हजार 818 कोरोना की जांच गई.


  कोरोना की पहली और दूसरी लहर को नियंत्रित करने वाली योगी सरकार अब तीसरी लहर को लेकर बेहद सजग है. दूसरे राज्यों में डेल्टा प्लस संक्रमण के मामलों की पुष्टि होने पर अधिकारियों को प्रदेश में अधिक सर्तकता बरतने के निर्देश दिए गए हैं. 

प्रदेश सरकार ने राज्‍य  में कोरोना वायरस की जांच के लिए जीनोम सिक्वेंसिंग की सुविधा का विस्‍तार किया है. सरकार ने प्रदेश में जीनोम सिक्वेंसिंग के दायरे को बढ़ाते हुए बीएचयू, केजीएमयू, सीडीआरआई, आईजीआईबी, राम मनोहर लोहिया संस्‍थान में जीनोम परीक्षण की व्यवस्था की है.