अमेरिका : साइबर हमलावरों पर लगाओ लगाम, बाइडेन ने किया पुतिन को फोन

    दिनांक 10-जुलाई-2021   
Total Views |
रायटर के हवाले से, दुबई से खबर है कि साइबर हमलावरों ने 9 जुलाई को ईरान का रेल ताना-बाना हैक करके वहां रेल सेवा का गंभीर बाधा पहुंचाई है। साइबर हैकर्स ने शरारत करते हुए रेल नेटवर्क के पूछताछ नंबर को हटाकर उसकी जगह सर्वोच्च मजहबी नेता का नंबर डाल दिया। उल्लेखनीय है कि साइबर हैकिंग के ज्यादातर मामलों की उत्पत्ति रूस से देखी गई है।
 biden_1  H x W:
राष्ट्रपति जो बाइडेन और राष्ट्रपति पुतिन 
अमेरिका, भारत, ईरान ही नहीं, दुनिया के अनेक देश बढ़ती साइबर हैकिंग से परेशान हैं
9 जुलाई को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन से फोन पर लंबी बात की। उन्होंने पुतिन को कहा है कि रूस से अपनी गतिविधियां चला रहे साइबर हैकर्स पूरी दुनिया के लिए सिरदर्द बनते जा रहे हैं और नित नई चिंताएं खड़ी कर रहे हैं। इसे देखते हुए पुतिन अपने यहां ऐसे हैकिंग के काम में लगे तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें। बाइडेन ने स्पष्ट कहा कि अमेरिका अपने नागरिकों और संस्थानों की रक्षा करने के लिए जो भी जरूरी होगा, वह करेगा।
अमेरिकी राष्ट्रपति ने रूस के राष्ट्रपति को साइबर हैकिंग करने वाले रैंसमवेयर हमलावरों के विरुद्ध कार्रवाई करने को कहा है। व्हाइट हाउस के अधिकारियों ने बाइडेन के पुतिन से फोन पर बात करने की पुष्टि की है।
ईरान के रेल नेटवर्क में लगी सेंध
रायटर के हवाले से, दुबई से खबर है कि साइबर हमलावरों ने 9 जुलाई को ईरान का रेल ताना-बाना हैक करके वहां रेल सेवा का गंभीर बाधा पहुंचाई है। साइबर हैकर्स ने शरारत करते हुए रेल नेटवर्क के पूछताछ नंबर को हटाकर उसकी जगह सर्वोच्च मजहबी नेता का नंबर डाल दिया। उल्लेखनीय है कि साइबर हैकिंग के ज्यादातर मामलों की उत्पत्ति रूस से देखी गई है। वहां हैकर्स अत्यधिक सक्रिय हैं। इसीलिए बाइडेन ने पुतिन को फोन कर ऐसे तत्वों पर कड़ी लगाम लगाने को कहा है जिससे अमेरिका ही नहीं, दुनिया के अन्य देशों को इससे आ रही दिक्कतें दूर हो सकें।