मेडिकल उपकरण की खरीद में आआपा पर लगा घोटाले का आरोप, कपिल मिश्र ने थाने में दर्ज कराई शिकायत

    दिनांक 16-जुलाई-2021   
Total Views |
 
मेडिकल उपकरणों की खरीद में उत्तर प्रदेश सरकार पर झूठे आरोप लगाने वाली दिल्‍ली की आम आदमी पार्टी  सरकार भ्रष्टाचार के आरोप में फंस गई है. कोरोना काल के दौरान दिल्‍ली में आआपा की सरकार ने जेम पोर्टल पर निर्धारित दरों से 4 गुना अधिक पर उपकरणों की खरीद की. इसे लेकर दिल्‍ली के आलोक शर्मा व कपिल मिश्र  ने गुरूवार को रोहिणी थाने में आप सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येन्‍द्र जैन समेत अन्‍य लोगों के खिलाफ तहरीर दी.
kapil_1  H x W:

कपिल मिश्र का आरोप है कि आआपा सरकार जनता का पैसा लूट रही है.  भारत सरकार की नीति की अनदेखी कर आआपा सरकार ने व्यापारी मित्रों को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार के जेम पोर्टल पर दिए गए निर्धारित दरों से कई गुना अधिक दामों पर मेडिकल उपकरण खरीदा.


कपिल मिश्र ने अपनी तहरीर में आरोप लगाया है कि जेम पोर्टल पर मल्‍टी पर मॉनिटर 5 की कीमत 95,200 रुपए है जबकि आआपा सरकार ने इसे 3,28,000 रुपए में खरीदा है. इसके साथ इको कलर डॉपलर की कीमत जेम पोर्टल पर 22,50,000 रुपए की है. इसे आआपा सरकार ने 38,00,000 रुपए में खरीदा है. जेम पोर्टल पर एचएफ एनओ थेरेपी यूनिट 1,28,700 रुपए की है. इसे 2,73,278 रुपए में खरीदा गया है. नियोनेटल वेंटीलेटर जेम पोर्टल पर 18,50,000 रुपए का है. इसे तीन गुना अधिक 41,29,840 रुपए का खरीदा गया है.

 कपिल मिश्र का कहना है कि कोरोना काल के दौरान आमजन की जान बचाने वाले उपकरणों की खरीद फरोख्‍त में किया गया भ्रष्टाचार बहुत ही संगीन मामला है. आआपा सरकार द्वारा सरकारी पैसे की लूट की जा रही है.