कोरोना महामारी के दौरान भी लग रही हैं 39,454 शाखाएं

    दिनांक 19-जुलाई-2021   
Total Views |

v2_1  H x W: 0
संघ की एक शाखा (फाइल चित्र)

गत दिनों चित्रकूट में आयोजित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक में संगठनात्मक गतिविधियों के साथ-साथ कोरोना की दूसरी लहर से उत्पन्न परिस्थितियों पर विस्तृत चर्चा हुई। बैठक में प्रांतों में हुए सेवा कार्यों की समीक्षा भी की गई।

कोरोना की तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए तय किया गया कि पूरे भारत में शासन-प्रशासन के साथ सहयोग करने एवं संभावित पीड़ितों की सहायता हेतु विशेष ‘कार्यकर्ता प्रशिक्षण वर्ग’ का आयोजन किया जाएगा। ये कार्यकर्ता ऐसी परिस्थिति में समाज का मनोबल बढ़ाने के लिए आवश्यक सभी जानकारी उचित समय पर लोगों तक पहुंचाने के लिए लगभग 2,50,000 स्थानों तक जाएंगे। यह प्रशिक्षण अगस्त माह में पूर्ण किया जाएगा तथा सितंबर से जनजागरण द्वारा हर गांव में सेवाभावी लोगों और संस्थाओं को इस अभियान से जोड़ा जाएगा।

जैसे-जैसे कोरोना के प्रकोप के बाद स्थितियां सामान्य हो रही हैं, वैसे-वैसे संघ की शाखाएं भी शुरू हो रही हैं। बैठक में प्राप्त जानकारी के अनुसार देशभर में वर्तमान में कुल 39,454 शाखाएं संचालित हो रही हैं। इनमें से 27,166 शाखाएं मैदान में लग रही हैं तथा 12,288 ई-शाखाएं हैं। साप्ताहिक मिलनों की संख्या 10,130 है। प्रत्यक्ष रूप से मैदान में 6,510 पुन: प्रारंभ हुए तथा ई-मिलन 3,620 हैं। कोरोना काल में विशेष रूप से प्रारंभ हुए कुटुंब मिलन देशभर में 9,637 हैं।