भारत सरकार सुरक्षित, स्थिर, लोकतांत्रिक अफगानिस्तान बनाने के प्रयासों को पूरा समर्थन देती है—विदेश मंत्रालय प्रवक्ता

    दिनांक 23-जुलाई-2021   
Total Views |
अफगानिस्तान के हालात पर अरिंदम बागची ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारत एक करीबी पड़ोसी होने के नाते अफगान सरकार और लोगों को एक सुरक्षित, स्थिर, लोकतांत्रिक अफगानिस्तान बनाने के प्रयासों में पूरा समर्थन देता है।
mmm_1  H x W: 0


पाकिस्तान में अफगानिस्तान राजनयिक की बेटी के अपहरण पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि यह एक हैरान कर देने वाली घटना है। पाकिस्तान ने जिस तरह से पीड़ित की बातों को खारिज करने का प्रयास किया है वह पाकिस्तान सरकार में गिरावट का नया स्तर है। दरअसल इस मामले में पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख राशिद अहमद ने अजीबोगरीब बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि इस अपहरण कांड के पीछे अफगानिस्तान और भारत हैं। दोनों देश जान-बूझकर वारदात से संबंधित तथ्यों को छिपा रहे हैं। रावलपिंडी में संवाददाताओं से बातचीत में शेख राशिद ने कहा कि राजनयिक की बेटी का अपहरण कोई आपराधिक वारदात नहीं है। वास्तव में यह पाकिस्तान को बदनाम करने की साजिश है। शेख राशिद का कहना था कि पाकिस्तान के खिलाफ लगातार ऐसी साजिशें हो रही हैं।


अफगानिस्तान के हालात पर अरिंदम बागची ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारत एक करीबी पड़ोसी होने के नाते अफगान सरकार और लोगों को एक सुरक्षित, स्थिर, लोकतांत्रिक अफगानिस्तान बनाने के प्रयासों में पूरा समर्थन देता है। भारत और अफगानिस्तान के द्विपक्षीय संबंध एक रणनीतिक समझौते से चलते हैं, जिस पर अक्टूबर 2011 में हस्ताक्षर किया गया था।  उन्होंने आगे कहा कि एक पड़ोसी के रूप में  भारत एक शांतिपूर्ण लोकतांत्रिक और समृद्ध भविष्य को साकार करने में सरकार और लोगों का समर्थन करता है, जिसमें अफगानिस्तान के सभी वर्गों के हितों में महिलाएं और अल्पसंख्यक शामिल हैं।