एसआईटी ने भिवानी से एक लैब संचालक को किया गिरफ्तार, कुम्भ में कोरोना टेस्टिंग फर्जीवाड़े में पहली गिरफ्तारी

    दिनांक 23-जुलाई-2021   
Total Views |
कुम्भ के दौरान टेस्टिंग में फर्जीवाड़े में एसआईटी ने हरियाणा के भिवानी से एक लैब संचालक आशीष वशिष्ठ की गिरफ्तारी की है और पुलिस ने उसे तीन दिन की रिमांड पर लिया है
kumb_1  H x W:
कुम्भ के दौरान टेस्टिंग में फर्जीवाड़े में एसआईटी ने हरियाणा के भिवानी से एक लैब संचालक आशीष वशिष्ठ की गिरफ्तारी की है और पुलिस ने उसे तीन दिन की रिमांड पर लिया है। बता दें कि इस मामले में यह पहली गिरफ्तारी की गई है और एसआइटी को मेसर्स मैक्स कारपोरेट सर्विसेज के पार्टनर शरत पंत और मल्लिका पंत के खिलाफ भी सबूत मिले हैं। जांच के दौरान फर्म के पांच बैंक खातों  सहित कुल सात खातों में 34.41 लाख रुपये  फ्रीज कर दिए गए। 
ज्ञात हो कि शरत व मल्लिका ने ही डेलफ़िया लैब को टेस्टिंग में शामिल किया था जबकि उसका अनुबंध हिसार की नलबा लैब और लाल चंदानी लैब से था। ऐसे में हरिद्वार में जिन दो दर्जन फर्मों को कोरोना टेस्टिंग का ठेका दिया गया, उनमें मैक्स कारपोरेट भी है। 
गौरतलब है कि कुछ समय पहले कोरोना फर्जीवाड़े में टेस्टिंग का मामला सामने आया था। इस सम्बंध में हरिद्वार के सीएमओ डॉ शंभू कुमार झा ने 17 जून को मुकदमा दर्ज कराया था।