पश्चिम बंगाल: शुभेंदु अधिकारी पहुंचे हाइकोर्ट, अपने खिलाफ दर्ज सभी मामलों की सीबीआई जांच की मांग की

    दिनांक 23-जुलाई-2021   
Total Views |
पश्चिम बंगाल में बदले की राजनीति जारी है। तृणमूल से भाजपा में आए और अब पश्चिम बंगाल में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने कलकत्ता उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर उनके खिलाफ दर्ज मामलों की सीबीआई जांच की मांग की है ताकि जांच निष्पक्ष हो सके

shubhandu adhikari _1&nbs
पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने अपने खिलाफ दायर मामलों को ''राजनीतिक प्रतिशोध'' बताते हुए कलकत्ता उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर की है। इसमें उन्होंने अपने खिलाफ दर्ज सभी आपराधिक मामलों को सीबीआई को स्थानांतरित करने की मांग की है।
भाजपा विधायक ने बृहस्पतिवार को याचिका दायर कर अपने खिलाफ आपराधिक मामलों को "निष्पक्ष जांच" के लिए सीबीआई को स्थानांतरित करने की मांग की। उन्होंने आरोप लगाया है कि उन्हें "राजनीतिक प्रतिशोध" के चलते परेशान किया जा रहा है क्योंकि वह एक विपक्षी दल के नेता हैं और उनके खिलाफ "झूठे दावों" के साथ मामले दर्ज किए गए हैं।
शुभेंदु अधिकारी ने अपने खिलाफ प्राथमिकी को रद्द करने का निर्देश देने के लिए उच्च न्यायालय से प्रार्थना की है। राज्य पुलिस और  वहां की सीआईडी अधिकारी से जुड़े कई मामलों की जांच कर रही है। पेगासस स्पाइवेयर के साथ कथित जासूसी गतिविधि को लेकर देशव्यापी विवाद के बीच, भाजपा नेता ने उस समय विवाद खड़ा कर दिया जब उन्होंने कहा कि उन्हें पूर्व मेदिनीपुर जिले के एसपी अमरनाथ की कॉल डिटेल मिली है। उसके बाद पुलिस ने मंगलवार को उनके खिलाफ स्वत: संज्ञान लेकर मामले दर्ज किए। अधिकारी ने सोमवार को जिले के तमलुक इलाके में पार्टी की एक बैठक के दौरान स्थानीय पुलिस प्रमुख को सार्वजनिक रूप से सलाह दी थी कि वे ऐसा कुछ भी करने से बचें, जिससे उनका कश्मीर में स्थानांतरण हो सकता है। नंदीग्राम विधायक ने इस साल की शुरुआत में हुए विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को हराया था। जिला पुलिस पूर्व मेदिनीपुर में राहत सामग्री की कथित चोरी के एक मामले की भी जांच कर रही है। राज्य सीआईडी एक पुलिस कांस्टेबल की मौत की जांच कर रही है, जो तीन साल पहले शुभेंदु अधिकारी की सुरक्षा टीम का हिस्सा था।