टोक्यो ओलंपिक : मुक्केबाजी में पूजा पदक से एक कदम दूर

    दिनांक 29-जुलाई-2021
Total Views |
प्रवीण सिन्हा

टोक्यो ओलंपिक के पांचवें दिन भारतीय खिलाड़ियों को मिले-जुले परिणाम मिले। मुक्केबाजी में पूजा रानी क्वार्टर फाइनल में पहुंच कर पदक जीतने से मात्र एक कदम दूर हैं। बैडमिंटन में पीवी सिंधू और तीरंदाजी में दीपिका कुमारी अपने-अपने मुकाबले जीत कर प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई हैं जबकि हालांकि पुरुषों में तीरंदाजी में प्रवीण जाधव व तरुणदीप राय और बैडमिंटन में साईं प्रणीथ जूझते हुए हार कर टोक्यो ओलंपिक से बाहर हो गए
neetu_1  H x W:

टोक्यो ओलंपिक के पांचवें दिन बुधवार को भारत के लिए कुछ अच्छी खबरें आईं, लेकिन तीरंदाजी में प्रवीण जाधव व तरुणदीप राय और बैडमिंटन में साईं प्रणीथ जूझते हुए हार कर टोक्यो ओलंपिक से बाहर हो गए। महिला एकल बैडमिंटन में 2016 रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता सिंधू ने महिला एकल के प्री-क्वार्टर फाइनल में जगह बनाकर ओलंपिक पदक की ओर सशक्त कदम बढ़ाए, जबकि विश्व की नंबर एक तीरंदाज दीपिका कुमारी ने भी प्री-क्वार्टर फाइनल में प्रवेश करते हुए पदक की उम्मीद को जिंदा रखा। एक अन्य रोमांचक मुकाबले में पूजा रानी महिला एकल मुक्केबाजी के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाते हुए पदक के बेहद करीब पहुंच गयी हैं।

सिंधू नॉकआउट दौर में
स्टार शटलर पी.वी. सिंधू ने अपने अंतिम ग्रुप मैच में हांगकांग की चियुंग नान यी को 21-9, 21-16 से मात देकर महिला एकल बैडमिंटन के नॉकआउट दौर में प्रवेश कर लिया। सिंधू अपने दोनों मैच जीतकर ग्रुप में शीर्ष पर रहीं। इन मुकाबलों में सिंधू को एक भी गेम में हार का सामना नहीं करना पड़ा है। दूसरी ओर पुरुषों के एकल मुकाबले में साईं प्रणीथ ग्रुप मुकाबलों में एक भी मैच जीते बिना टोक्यो ओलंपिक से बाहर हो गए। प्रणीथ को आज नीदरैलैंड के मार्क ने अंतिम ग्रुप मैच में 21-14, 21-14 से हराया।

दीपिका को करनी होगी मेहनत   
महिला एकल तींरदाजी के पहले दौर में दीपिका प्रभावशाली प्रदर्शन नहीं कर सकीं। इसके बावजूद उन्होंने भूटान की कर्मा को 6-0 से हराकर दूसरे दौर में प्रवेश किया। दूसरे दौर में अमेरिका की 18 वर्षीय जेनिफर ने दीपिका को कड़ी चुनौती देते हुए बड़ा उलटफेर करने के करीब पहुंच गयी थीं। लेकिन दीपिका ने अनुभव का फायदा उठाते हुए अपना धैर्य कायम रखा और अंततः 6-4 से जीत दर्ज कर अंतिम 16 में प्रवेश किया। दीपिका बुधवार को दो दौर के मुकाबलों में महज चार बार 10 अंक हासिल कर सकीं। अब पदकों की दौड़ में बने रहने के लिए उन्हें गुरुवार को अपनी प्रतिभा के अनुसार शानदार प्रदर्शन करना होगा।

neetu_1  H x W:

दूसरी ओर रिकर्व तीरंदाजी के पुरुष एकल वर्ग में भारत के प्रवीण जाधव की किस्मत खराब रही और विश्व नंबर एक खिलाड़ी अमेरिका के ब्रैडी एलिसन ने उन्हें दूसरे दौर में 6-0 से हराकर ओलंपिक से बाहर कर दिया। इससे पहले प्रवीण ने पहले दौर में भारी उलटफेर करते हुए विश्व के नंबर 2 खिलाड़ी बाजरझापोव को 6-0 से मात देकर तहलका मचा दिया था।

पूजा रानी के दमदार पंच
पूजा ने दमदार प्रहार करते हुए अल्जीरिया की इचरक चैब को 5-0 से मात देकर महिला मुक्केबाजी के 75 किग्रा भारवर्ग के अंतिम 8 में प्रवेश कर लिया। 30 वर्षीय अनुभवी पूजा ओलंपिक पदक से महज एक जीत दूर रह गयी हैं। एशियाई चैंपियनशिप की स्वर्ण पदक विजेता पूजा ने इसी वर्ष मार्च माह में बॉक्सम इंटरनेशनल टूर्नामेंट में रजत पदक जीतने के दौरान विश्व चैंपियन अथेना बायलॉन को हराया था।

महिला हॉकी टीम फिर हारी
टोक्यो ओलंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम का निराशाजनक प्रदर्शन जारी है। भारतीय टीम को अब तक खेले गए तीनों ग्रुप ए लीग मैचों में हार का सामना करना पड़ा है। ग्रेट ब्रिटेन ने बुधवार को भारत को 4-1 से हराकर उनके लिए ओलंपिक की राह कठिन कर दी है। इससे पहले भारतीय टीम को जर्मनी के हाथों 0-2 और नीदरलैंड के हाथों 1-5 से हार झेलनी पड़ी थी। अब रानी रामपॉल के नेतृत्व में मुकाबले में बने रहने के लिए भारतीय टीम को अगले दो मैचों में आयरलैंड और दक्षिण अफ्रीका को हराना ही होगा।