तालिबान ने अगवा किया काबुल से निकलना चाह रहे भारतीय नागरिकों को, बाद में रिहा किए जाने के अपुष्ट समाचार

    दिनांक 21-अगस्त-2021   
Total Views |
काबुल हवाईअड्डे से हजारों लोग हवाई सेवाओं द्वारा सुरक्षित निकाले जा चुके हैं, लेकिन अभी भी बहुत से अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। लेकिन वहां से तालिबान कइयों का वहीं से अपहरण भी कर रहे हैं
kabulair_1  H x 
काबुल हवाईअड्डे पर जमा लोगों की भारी भीड़ (फाइल चित्र) 
अफगान मीडिया काबुल नाउ ने अगवा हुए लोगों की संख्या 150 से ज्यादा बताई है, जिनमें से अधिकांश कथित तौर पर भारतीय नागरिक हैं। अफगान मीडिया ने बताया कि अगवा किए लोगों को अपहरणकर्ता 8 गाड़ियों में बैठाकर तर्खिल की तरफ ले गए हैं। एक अन्य पत्रकार जकी दरयाबी ने ट्वीट कर बताया उन लोगों को पहले पीटा गया, फिर काबुल के पूर्वी हिस्से की तरफ तर्खिल ले जाया गया है।
ताजा समाचारों के अनुसार, काबुल से भारत आने की आपाधापी में लगे कई भारतीयों को तालिबान लड़ाकों ने अगवा कर लिया है। 15 अगस्त के बाद से काबुल हवाईअड्डे पर ऐसे लोगों की भारी भीड़ जमा है जो कैसे भी जान बचाकर अफगानिस्तान में काबिज जिहादी तालिबानों से बचकर निकलना चाहते हैं। पता चला है कि इनमें हजारों लोग वहां से हवाई सेवाओं द्वारा सुरक्षित निकाले जा चुके हैं, लेकिन अभी भी बहुत से अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। लेकिन हवाईअड्डे के बाहर डेरा जमाए बंदूकधारी तालिबान कइयों का वहीं से अपहरण भी कर रहे हैं। अफगान मीडिया की मानें तो अगवा हुए लोगों में कुछ भारतीय नागरिक भी हैं। हालांकि इस खबर की और ज्यादा पुष्टि होने का इंतजार है।

kabulair1_1  H  
जकी दरयाबी का ट्वीट 
दूसरी ओर, तालिबान लड़ाकों के प्रवक्ता ने इस खबर का खंडन तो किया है लेकिन अफगान मीडिया के वर्ग को इस पर संदेह है। तालिबान प्रवक्ता का कहना है कि तालिबानी लड़ाके हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के आस-पास तो मौजूद हैं पर लोगों को अंदर नहीं जाने दे रहे हैं। हालांकि अफगान मीडिया काबुल नाउ ने अगवा हुए लोगों की संख्या 150 से ज्यादा बताई है, जिनमें से अधिकांश कथित तौर पर भारतीय नागरिक हैं। अफगान मीडिया ने बताया कि अगवा किए लोगों को अपहरणकर्ता 8 गाड़ियों में बैठाकर तर्खिल की तरफ ले गए हैं। एक अन्य पत्रकार जकी दरयाबी ने ट्वीट कर बताया उन लोगों को पहले पीटा गया, फिर काबुल के पूर्वी हिस्से की तरफ तर्खिल ले जाया गया है। हालांकि दोपहर बाद जकी ने एक और ट्वीट करके कहा है कि दो सूत्रों के हवाले से पता चला है कि अगवा किए भारतीयों को छोड़ दिया गया है और वे काबुल हवाईअड्डे की ओर रवाना हो चुके हैं। लेकिन अभी इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।