फिदायीन हमलावर था अब्दुल रहमान अल-लोगरी, सामने आई आखिरी पलों की तस्वीर, अमेरिकी सैनिक थे निशाने पर

    दिनांक 27-अगस्त-2021   
Total Views |

हमलावर अब्दुल रहमान अल-लोगरी के फिदायीन हमले में बड़ी तादाद में मासूमों की जानें गई हैं। आतंकी गुट द्वारा जारी की गई फोटो में लोगरी को इस्लामिक स्टेट के झंडे के सामने हथियार लिए देखा जा सकता है

a_1  H x W: 0 x
आईएसआईएस द्वारा जारी की गई फिदायीन हमलावर लोगरी की फोटो

इस्लामिक
स्टेट ने खुद उन दो फिदायीन आतंकियों में से एक की फोटो और नाम जारी कर दिए हैं जो कल  काबुल हवाई अड्डे पर हमले में शामिल थे। इसमें से एक हत्यारा था अब्दुल रहमान अल-लोगरी।

काबुल स्थिति हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के बाहर 26 अगस्त को शाम को जो दो धमाके हुए, जिनमें ताजा रपट के अनुसार, 13 अमेरिकी सैनिकों सहित करीब 100 लोगों की मौत हो चुकी है, उनकी जिम्मेदारी लेने वाले इस्लामिक स्टेट खुरासान गुट ने आत्मघाती हमलावरों की जानकारी जारी करके बताया है कि हमलावरों का उद्देश्य अमेरिकी सैनिकों और उनके अफगानिस्तानी सहयोगियों को निशाना बनाना था। आतंकी गुट के अनुसार वह अपने मकसद में कामयाब हुआ है।

a_1  H x W: 0 x
धमाके के बाद हवाई अड्डे के बाहर का दृश्य

ताजा रपट के अनुसार, 13 अमेरिकी सैनिकों सहित करीब 100 लोगों की मौत हो चुकी है, उनकी जिम्मेदारी लेने वाले इस्लामिक स्टेट खुरासान गुट ने आत्मघाती हमलावरों की जानकारी जारी करके बताया है कि हमलावरों का उद्देश्य अमेरिकी सैनिकों और उनके अफगानिस्तानी सहयोगियों को निशाना बनाना था।

इस्लामिक स्टेट खुरासान की हिमाकत ये है कि अब इसने उन दो हमलावरों में से एक की तस्वीर और नाम दुनिया के सामने जारी किया है। एक हमलावर अब्दुल रहमान अल-लोगरी के फिदायीन हमले में बड़ी तादाद में मासूमों की जानें गई हैं। आतंकी गुट द्वारा जारी की गई फोटो में लोगरी को इस्लामिक स्टेट के झंडे के सामने हथियार लिए देखा जा सकता है। उसकी छाती पर बंधी विस्फोटकों की बेल्ट भी देखी जा सकती है। लोगरी के चेहरा काले कपड़े से ढका है, उसी केवल आंखें दिख रही हैं।