यूपी के 23 जनपद कोरोना संक्रमण से मुक्त

    दिनांक 31-अगस्त-2021   
Total Views |

लखनऊ ब्यूरो
केरल और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए यूपी में सतर्कता बढ़ा दी गई है. घर से बाहर निकलने पर मास्क की अनिवार्यता, भीड़-भाड़ वाली जगहों से परहेज एवं कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है. इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रात्रिकालीन कर्फ्यू को प्रभावी बनाने के निर्देश दिए हैं.
hhh_1  H x W: 0

रात
10 बजे तक बाजार बंद हो जाएंगे और सड़कों पर अनावश्यक घूमते लोगों के साथ सख्ती की जा सकती है. चेतावनी के दृष्टिगत रात 9 बजे से ही पुलिस टीम हूटर बजाकर अथवा लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों को 10 बजे तक घर जाने की अपील करेगी. इसके साथ ही, अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों में इलाज की व्यवस्था को बेहतर करने का कार्य प्रगति पर है. बच्चों के लिए आईसीयू वार्ड जैसी विशेष चिकित्सा सुविधाएं एवं ऑक्सीजन युक्त आइसोलेशन बेड में वृद्धि की जा रही है.

 
यूपी में कोविड की स्थिति पर प्रभावी नियंत्रण बना हुआ है. ताजा स्थिति के अनुसार प्रदेश के 23 जनपदों में एक्टिव केस शून्य हैं. जनपद अमेठी, बागपत, बांदा, बस्ती, बिजनौर, चित्रकूट, देवरिया, एटा, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, गोंडा, हमीरपुर, हरदोई, जौनपुर, कानपुर देहात, महोबा, मऊ, मुजफ्फनगर, पीलीभीत, रामपुर, संतकबीरनगर, सीतापुर और उन्नाव में कोरोना का एक भी मरीज नहीं है. यह जनपद कोरोना संक्रमण से मुक्त हैं.

उत्तर प्रदेश में कोरोना की रिकवरी दर 98.6% है. विगत दिवस दैनिक पॉजिटिविटी दर 0.006% रही. वहीं, सबसे ज्यादा टीकाकरण कर अन्य राज्यों के लिए उदाहरण पेश करने वाले उत्तर प्रदेश में कोविड वैक्सीनेशन का आंकड़ा 7 करोड़ 4 लाख के पार हो चुका है.  अब तक 05 करोड़ 91 लाख से अधिक नागरिकों ने कोविड से बचाव के लिए टीके की कम से कम एक खुराक प्राप्त कर ली है। यह देश के किसी एक राज्य में हुआ सर्वाधिक टीकाकरण है।