बेबी रानी के इस्‍तीफे के बाद पूर्व लेफ्टिनेंट जनरल स.गुरमीत सिंह बने उत्तराखंड के नए राज्‍यपाल

    दिनांक 10-सितंबर-2021   
Total Views |
पहली बार उत्तराखंड में राज्यपाल पद पर किसी बड़े पूर्व सैन्य अधिकारी की नियुक्ति की गई है। पूर्व उपसेना प्रमुख स.गुरमीत सिंह को बेबी रानी मौर्य के इस्तीफे के बाद राज्यपाल नियुक्त किया गया है।
pun_1  H x W: 0

पहली बार उत्तराखंड में राज्यपाल पद पर किसी बड़े पूर्व सैन्य अधिकारी की नियुक्ति की गई है। पूर्व उपसेना प्रमुख स.गुरमीत सिंह को बेबी रानी मौर्य के इस्तीफे के बाद राज्यपाल नियुक्त किया गया है। श्री सिंह को चीन सीमा के साथ—साथ पाकिस्तान सीमाओं पर भी काम करने का अनुभव है।

रक्षा मामलों के जानकार कहते हैं कि उत्तराखंड से लगी चीन—नेपाल सीमा पर चल रहे विकास कार्यों पर नज़र रखने के लिए भी ये नियुक्ति हो सकती है। मोदी सरकार ने पहली बार उत्तराखंड में चीन सीमा तक आल वेदर रोड बनाने के दो बड़े प्रोजेक्ट शुरू किए हुए हैं, ताकि बॉर्डर एरिया तक रसद आपूर्ति को 12 महीने सुचारू रखा जा सके।

बता दें कि सड़क परिवहन में सीईओ रहे एसएस संधू को उत्तराखंड में चीफ सेकेट्री बना कर भेजा गया है। उन्हें भी इन आल वेदर रोड पर काम में तेज़ी लाने की जिम्मेदारी दी गयी है। सीमांत क्षेत्रों में विकास और सुरक्षा के लिए राज्यपाल, मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव की तिकड़ी को काम करना है।