मुख्तार से बसपा ने बनाई दूरी, मऊ विधानसभा सीट से टिकट काटा

    दिनांक 10-सितंबर-2021
Total Views |
 लखनऊ ब्यूरो
मायावती ने मुख्तार अंसारी से किनारा कर लिया है. मुख्तार का टिकट काट दिया गया है. बसपा, मऊ से भीम राजभर को चुनाव मैदान में उतारेगी. 
maya_1  H x W:


वर्ष 2007
में समाजवादी पार्टी के खिलाफ चुनाव मैदान में बसपा ने नारा दिया था - चढ़ गुंडों की छाती पर , अब मुहर लगेगी हाथी पर. जनता ने इस नारे पर विश्वास करके बसपा को वोट दिया. वर्ष 2007 में बसपा की उत्तर प्रदेश में सरकार बनी.  मगर कुछ दिन बाद कहा जाने लगा कि ‘चढ़ गए गुंडे हाथी पर - अब मुहर लगेगी बाकी पर. बसपा के उस शासन काल में मुख्तार अंसारी पर कोई ख़ास कार्रवाई नहीं की गई थी. अब उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव नजदीक है. सो , मायावती को पार्टी की साफ़ सुथरी छवि का डर सता रहा है.

 

मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा, 'बीएसपी का आगामी यूपी विधानसभा चुनाव में प्रयास होगा कि किसी भी बाहुबली व माफिया आदि को पार्टी से चुनाव न लड़ाया जाए. इसके मद्देनजर ही आजमगढ़ मण्डल की मऊ विधानसभा सीट से अब मुख्तार अंसारी को नहीं बल्कि यूपी के बीएसपी स्टेट अध्यक्ष  भीम राजभर के नाम को फाइनल किया गया है.'

 

मायावती ने ट्वीट  करके यह भी कहा है कि 'जनता की कसौटी व उनकी उम्मीदों पर खरा उतरने के  लिए  पार्टी प्रभारियों से अपील है कि वे पार्टी उम्मीदवारों का चयन करते समय इस बात का खास ध्यान रखें ताकि सरकार बनने पर ऐसे तत्वों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करने में कोई भी दिक्कत न हो.'