सौर ऊर्जा से जगमगाएंगे यूपी के राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान

    दिनांक 10-सितंबर-2021
Total Views |
 लखनऊ ब्यूरो

 उत्तर प्रदेश सरकार आईटीआई भवनों में सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने जा रही है. वहां पढने वाले छात्रों को निर्बाध विद्युत आपूर्ति मिल सकेगी. इसके साथ ही बड़े पैमाने पर बिजली की बचत भी होगी.
uup_1  H x W: 0

इस योजना
का सबसे अधिक लाभ ग्रामीण क्षेत्र के आईटीआई के छात्रों को मिलेगा. व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के अनुसार प्रदेश के 66 आईटीआई में हरित ऊर्जा के अंतर्गत सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित होंगे.


प्रदेश में 300 से अधिक सरकारी आईटीआई संचालित किए जा रहे हैं. इनमें सीटों की संख्या करीब 1 लाख 19 हजार से अधिक है. अभी हाल में उत्तर प्रदेश सरकार ने छात्रों के कौशल विकास के लिए 44 नए राजकीय आईटीआई को क्रियाशील किया है. इससे 58 हजार से अधिक सीटों में बढ़ोत्‍तरी हुई है. विभाग के अनुसार हरित उर्जा को बढ़ावा देने के लिए 66 आईटीआई में सौर उर्जा संयंत्र स्‍थापित किए जाएंगे.

हर आईटीआई में 40 किलोवाट क्षमता के सौर उर्जा संयंत्र लगेंगे. कुछ आईटीआई में सौर उर्जा संयंत्र लगने शुरू भी हो गए हैं. इससे छात्रों को निर्बाध विद्युत आपूर्ति मिल सकेगी. आईटीआई भवनों में सौर उर्जा संयंत्र लगने से ग्रामीण परिवेश के छात्रों को बिजली आपूर्ति पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा. उनको 24 घंटे बिजली मिल सकेगी और पढ़ाई में किसी तरह की रूकावट नहीं आएगी.


व्‍यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग की ओर से सबसे अधिक आईटीआई ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित किए जा रहे हैं. विभाग के अनुसार ग्रामीण क्षेत्र के राजकीय आईटीआई में सबसे पहले सौर उर्जा संयंत्र स्‍थापित किए जाएंगे.