नए परिसर में ‘पाञ्चजन्य’ और ‘आर्गनाइजर’

    दिनांक 11-सितंबर-2021   
Total Views |

हवन के बाद आरती करते हुए सह सरकार्यवाह डॉ. मनमोहन वैद्य। साथ में हैं (बाएं से) श्रीमती मोनिका अरोड़ा, श्री भारत भूषण अरोड़ा और अन्य
vivith_1  H x W
 
गत 6 सितंबर को नई दिल्ली के मयूर विहार एक्सटेंशन में ‘पाञ्चजन्य’ एवं ‘आर्गनाइजर’ के नए कार्यालय का वैदिक विधि-विधान से शुभारंभ हुआ। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि थे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. मनमोहन वैद्य। उन्होंने अपने आशीर्वचन में कहा कि भारत का विचार सर्वसमावेशक है और इसी विचार को आगे बढ़ाने की आवश्यकता है।

वर्तमान में वैचारिक युद्ध चल रहा है। राष्ट्रभावी शक्तियां मजबूत न होने पाएं, इसके लिए राष्ट्र-विरोधी तत्व हर स्तर पर प्रयासरत हैं। भारत में राष्ट्र-विरोधी विचार प्रभावी न हो पाएं, इसके लिए हमें कार्य करना है। एक तरह से यह धर्म-युद्ध है और पाञ्चजन्य धर्म-युद्ध का शंखनाद है।
जो लोग धर्म के साथ नहीं हैं, उन पर बाण चलाने पड़ेंगे। उन्होंने कहा कि हमने सारे समाज को अपना माना है और इसलिए समाज को साथ लेकर आगे बढ़ना है। यही भारत का मूल विचार है। सभी भारत माता की संतान हैं और सबके सहयोग से ही हम धर्म-युद्ध जीतेंगे।
इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य श्री राम माधव, पूर्व राज्यसभा सांसद और पाञ्चजन्य के पूर्व संपादक श्री तरुण विजय, दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष श्री आदेश गुप्ता, भारत प्रकाशन दिल्ली लिमिटेड के प्रबंध निदेशक श्री भारत भूषण अरोड़ा, निदेशक श्री ब्रज बिहारी गुप्ता, श्री अनिल गुप्ता, निदेशक एवं प्रकाशक श्री बिहारी लाल सिंघल, पाञ्चजन्य और आर्गनाइजर के संपादक श्री हितेश शंकर एवं श्री प्रफुल्ल केतकर और सर्वोच्च न्यायालय की वरिष्ठ अधिवक्ता श्रीमती मोनिका अरोड़ा सहित अनेक गणमान्यजन उपस्थित रहे।