मेरठ: जिम जाने वाले युवाओं को बेचता था नकली सप्लीमेंट, हो गयी सरताज को जेल

    दिनांक 13-सितंबर-2021
Total Views |
पश्चिम उत्तरप्रदेश डेस्क 
मेरठ की एसटीएफ टीम ने 25 लाख रु का नकली सप्लीमेंट बरामद किया है। एसटीएफ के उपाधीक्षक ब्रजेश कुमार के मुताबिक ऑनलाइन कारोबार के जरिये यह नकली प्रोटीन देश भर में युवाओं को बेचा जा रहा था।
ii6_1  H x W: 0 
मेरठ की एसटीएफ टीम ने 25 लाख रु का नकली सप्लीमेंट बरामद किया है। एसटीएफ के उपाधीक्षक ब्रजेश कुमार के मुताबिक ऑनलाइन कारोबार के जरिये यह नकली प्रोटीन देश भर में युवाओं को बेचा जा रहा था।
पुलिस के मुताबिक मेरठ का रहने वाला सरताज, जिम जाने वाले युवाओं को ऑनलाइन कारोबार के जरिये फेक प्रोटीन सप्लाई किया करता था। इस बारे में मुखबिर की सूचना पर नकली प्रोटीन का परीक्षण करवाया गया। 15 कुंतल से ज्यादा नकली प्रोटीन, पैकिंग मैटीरियल, रैपर बॉटल्स, एक लैपटॉप आदि बरामद किए गया। सरताज के साथ ऑनलाइन कारोबार करने वाले शाजेब को भी पुलिस ने हिरासत में लिया और कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया।
गौरतलब है कि जिम जाने का शौक रखने वाले युवाओं को प्रोटीन अपने आहार में खाना होता है और वह इसे ऑनलाइन मंगाते हैं। अब उन्हें ये नहीं पता कि जो प्रोटीन वे मंगाकर खा रहे हैं, उसकी गुणवत्ता क्या है ? बाजार में ब्रांडेड कम्पनियां महंगे प्रोटीन बेचती हैं, जिसका फायदा सरताज ओर शाजेब जैसे नकली प्रोटीन के कारोबारी उठाते हैं।