उत्तराखंड को बनाएंगे देश की सांस्कृतिक और आध्यात्मिक राजधानी: पुष्कर सिंह धामी

    दिनांक 13-सितंबर-2021
Total Views |
उत्तराखंड ब्यूरो
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि देवभूमि उत्तराखण्ड को देश की आध्यात्मिक और सांस्कृतिक राजधानी के रूप में विकसित किया जायेगा। यह काम संत समाज, आम लोगों और सरकार के संयुक्त प्रयास से ही पूरा हो सकेगा।
ii7_1  H x W: 0 
गत दिनों उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने टिहरी में एक समारोह को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि देवभूमि उत्तराखण्ड को देश की आध्यात्मिक और सांस्कृतिक राजधानी के रूप में विकसित किया जायेगा। यह काम संत समाज, आम लोगों और सरकार के संयुक्त प्रयास से ही पूरा हो सकेगा। इसके लिए एक योजना बनाई जा रही है कि अगले 10 वर्ष में उत्तराखण्ड को देश का नंबर–1 राज्य बनाया जा सके। उन्होंने 16431.72 लाख लागत की कुल 49 योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण, टिहरी यूथ क्लब का उद्घाटन, देवप्रयाग के वैष्णों माता ग्राम संगठन के हिलांस तुलसी चाय उत्पाद का अनावरण और पर्यटन आवास गृह सुनहरीगाड जाखणीधार की चाबी का हस्तांतरण किया। इसके अलावा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत लाभार्थियों को चेक भी वितरित किए। टिहरी जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों के विकास के लिए महत्वपूर्ण घोषणाएं करते हुए उन्होंने शानदार अभिनंदन के लिए क्षेत्र की जनता का आभार प्रकट किया।
श्री धामी ने कहा कि वर्षों पहले उनका कई बार टिहरी आना हुआ है। आज टिहरी झील देखकर पहले की स्मृतियां ताजा हुईं तो भावुक हो गया। यहां पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी देश में सी प्लेन की व्यवसायिक उड़ान का जो सपना देख रहे हैं, उसी तर्ज पर जल्दी से जल्दी टिहरी झील में सी प्लेन उतारा जाएगा। इतना ही नहीं टिहरी को अत्याधुनिक शहर बनाने के लिए विश्व स्तरीय कंसल्टेंट हॉयर किए जायेंगे। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड के विकास के लिए प्रधानमंत्री जी का लगातार मार्गदर्शन और सहयोग मिल रहा है। केन्द्र सरकार के सहयोग से उत्तराखण्ड में आगामी दिसंबर माह तक कोरोना टीकाकरण अभियान को पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन में केदारनाथ धाम के बाद अब बदरीनाथ धाम को स्मार्ट और सुविधाजनक बनाने के प्रोजेक्ट पर काम शुरू की जाएंगे।