लव जिहाद: हिन्दू नाम से फेसबुक पर की दोस्ती, फिर कट्टे की नोक पर कबीर ने अपहरण कर किया बलात्कार

    दिनांक 03-सितंबर-2021   
Total Views |
जबरन एवं धोखे से प्रेमजाल में फंसाकर कन्वर्जन के मामलों पर अंकुश लगाने के लिए कड़े कानून के बावजूद घटनाएं थम नहीं रही हैं। ताजा मामला मध्य प्रदेश के सिवनी का है, जहां युवक ने अपनी पहचान छिपाकर फेसबुक के माध्यम से दोस्ती की, फिर मुलाकात के दौरान युवती का बलात्कार किया।
dhuma_1  H x W: 
 जबरन एवं धोखे से प्रेमजाल में फंसाकर कन्वर्जन के मामलों पर अंकुश लगाने के लिए कड़े कानून के बावजूद घटनाएं थम नहीं रही हैं। ताजा मामला मध्य प्रदेश के सिवनी का है, जहां युवक ने अपनी पहचान छिपाकर फेसबुक के माध्यम से दोस्ती की, फिर मुलाकात के दौरान युवती का बलात्कार किया।
खबरों के अनुसार सिवनी के धूमा थाना क्षेत्र में फेसबुक के जरिये दोस्ती कर हिन्दू नाम बताने वाला कबीर युवती से मिलने पहुंचा। फिर उसे धमकी देकर अपने साथ दिल्ली ले गया। जहां से वह उसे पटना ले जाने की तैयारी में था, लेकिन उससे पहले ही सिवनी से पहुंची पुलिस टीम ने आरोपी को दबोच लिया। युवती के परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसके बाद पुलिस युवती की लोकेशन ट्रेस कर उस तक पहुंच गई और अपने साथ सिवनी ले आई।
पुलिस हिरासत में आरोपी
धूमा थाना क्षेत्र में 30 अगस्त को लव जिहाद के मामले का खुलासा उस वक्त हुआ, जब पुलिस दिल्ली से युवती को आरोपी के साथ लेकर सिवनी पहुंची। पीड़िता के परिजनों के अनुसार आरोपी कबीर जो अपने आपको हिन्दू बता रहा था, उसने फेसबुक के जरिए युवती से दोस्ती गांठी। फिर उससे मुलाकात करने पहुंचा और धमकी देकर उसके साथ दुष्कर्म किया। फिर उसे कट्टा दिखाकर अपने साथ चलने के लिए राजी कर लिया। वह उसे दिल्ली के रास्ते पटना ले जाने की तैयारी में था। शिकायत मिलते ही थाना प्रभारी राहुल बघेल के नेतृत्व में जांच टीम गठित कर अलग-अलग जगह भेजी गयी थी। जांच टीम को मुखबिर ने उक्त आरोपी के दिल्ली रेलवे स्टेशन पर होने की सूचना दी। पूछताछ में आरोपी कबीर ने लड़की को जबरन ले जाने की बात स्वीकार की।
धूमा थाना प्रभारी राहुल बघेल ने बताया कि परिजनों ने युवती की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई गई थी, जिसे दिल्ली से बरामद किया गया है। उसके साथ एक संदिग्ध भी था, जिससे पूछताछ की गई। जिस पर उसने कई खुलासे किये। युवती ने बताया कि कट्टे की नोक पर रोककर उसके साथ गलत काम किया है। युवती के बयान के आधार पर पुलिस ने धारा 376, 506 व मध्य प्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम 2020 के तहत मामला दर्ज किया है।