पत्‍नी पर इस्‍लाम कबूलने दबाव बनाने और गोमांस खिलाने के आरोपी पति सहित तीन गिरफ्तार

    दिनांक 03-सितंबर-2021   
Total Views |
भिलाई की महिला ने पति सहित ससुराल पक्ष के पांच लोगों के खिलाफ इस्‍लाम कबूलने के लिए प्रताडि़त करने का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि उसे गोमांस खाने, अनैतिक काम करने और दहेज के लिए प्रताडि़त किया जाता था। पिछले साल दिसंबर में अकबर के साथ हुआ था निकाह।
23_1  H x W: 0  
छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में एक महिला ने अपने पति और उसके परिजनों पर इस्‍लाम कबूलने के लिए प्रताडि़त करने का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि उसे जबरन गोमांस खिलाया जाता है। उसकी शिकायत पर पुलिस ने पति, देवर और ससुर को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि सास और देवरानी फरार हैं।
पुलिस के मुताबिक, भिलाई शहर के छावनी थाना क्षेत्र की 22 वर्षीया नेहा गुप्‍ता का उसी इलाके के 25 वर्षीय मोहम्मद अकबर के साथ प्रेम संबंध था। 1 दिसंबर, 2020 दोनों अपने परिजनों को बिना कुछ बताए घर से गायब हो गए। नेहा के परिजनों ने छावनी थाने में बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। लेकिन तीन माह बाद फरवरी 2021 में नेहा और अकबर लौट आए और छावनी थाने में बताया कि उन्‍होंने निकाह कर लिया है। अकबर का कहना था कि दोनों भिलाई से दिसंबर में दिल्‍ली गए, फिर वहां से नेहा को कोलकाता अपनी बहन के घर ले गया। वहां उसने इस्‍लामिक रीति-रिवाज के तहत नेहा के साथ निकाह कर लिया। उसने पुलिस के समक्ष निकाहनामा भी पेश किया। थाने में बयान दर्ज कराने के बाद नेहा जेपी नगर स्थित अपने ससुराल चली गई। लेकिन 1 सितंबर को नेहा एक बार फिर छावनी थाना पहुंची। उसने आरोप लगाया कि उसके पति अकबर ने कोलकाता में इस्‍लाम कबूल करने के लिए उसे प्रताडि़त किया। उसे गोमांस खाने के लिए मजबूर किया, अनैतिक काम करने के लिए दबाव बनाया गया और दहेज के लिए भी प्रताडि़त किया गया। इसमें पति के अलावा, उसके सास-ससुर तथा देवर और देवरानी भी शामिल थे। नेहा की शिकायत पर पुलिस ने पति सहित ससुराल पक्ष के पांच लोगों के खिलाफ अप्राकृतिकअपराधों व क्रूरता के साथ कन्‍वर्जन तथा दहेज उत्‍पीड़न का मामला दर्ज किया कर पति अकबर, ससुर मरगुब और देवर मकबूल को गिरफ्तार कर लिया है। सास और देवरानी फरार है। पुलिस दोनों को खोज रही है। पुलिस का कहना है कि अकबर और उसके परिजनों ने नेहा के आरोपों को बेबुनियाद बताया है।