कश्मीर से विस्थापित हिन्दुओं को मिलेंगी जबरन कब्जाई गई पुश्तैनी संपत्तियां, इस पोर्टल पर दर्ज कराएं शिकायत

    दिनांक 08-सितंबर-2021   
Total Views |
कश्मीर घाटी से विस्थापित कश्मीरी हिंदुओं के पुनर्वास के लिए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। अब मजहबी उन्मादियों द्वारा जबरन कब्जाई गई पुश्तैनी संपत्तियां वापस पाना उनके लिए आसान हो जाएगा।
tyrtr_1  H x W:


कश्मीर घाटी से विस्थापित कश्मीरी हिंदुओं के पुनर्वास के लिए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। अब मजहबी उन्मादियों द्वारा जबरन कब्जाई गई पुश्तैनी संपत्तियां वापस पाना उनके लिए आसान हो जाएगा। इसी कड़ी में उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने विस्थापितों की आनलाइन शिकायत दर्ज कराने के लिए पोर्टल का लोकार्पण किया। इन शिकायतों का लोकसेवा अधिकार कानून के तहत तय समय में निवारण करना होगा।
 
 विस्थापितों की सम्मानजकर वापसी और पुनर्वास के प्रति सरकार की संकल्पबद्धता को दोहराते हुए सिन्हा ने कहा कि बीते 13 माह के दौरान कई मजहबी, सामाजिक, राजनीतिक प्रतिनिधिमंडलों से मिला हूं। सबने ने कश्मीर विस्थापितों की वापसी का समर्थन किया है। सुखद भविष्य की नींव के लिए पुराने जख्मों को भरने और उन पर मरहम लगाने का यही सही समय है। हम सभी को मिलकर भाईचारे की नई मिसाल कायम करनी है।


उल्लेखनीय है कि विस्थापितों की संपत्ति से जुड़े मामलों के समाधान के लिए http://jkmigrantrelief.nic.in/ or http://kashmirmigrantsip.jk.gov.in पर जाकर अपनी शिकायत दर्ज करानी होगी। अब तक इस पोर्टल पर 854 परिवारों ने शिकायतें भी दर्ज कराईं।