पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

राज्य

बकरीद के बाद केरल में कोरोना का कहर

WebdeskJul 23, 2021, 11:56 AM IST

बकरीद के बाद केरल में कोरोना का कहर

कोरोना के नियमों में छूट देने के कारण बकरीद के दौरान केरल के बाजारों में ऐसी रही भीेड़


गत 22 जुलाई को पूरे देश में कोरोना के कुल 41,383 मरीज मिले। इनमें से 17,481 केवल केरल में हैं। यानी इस समय में कोरोना के 42 प्रतिशत मरीज सिर्फ केरल में हैं। विशेषज्ञ मान रहे हैं कि बकरीद के लिए 18, 19 और 20 जुलाई को कोरोना के नियमों में भारी छूट देने के कारण राज्य में कोरोना के मरीज तेजी से बढ़ने लगे हैं।

केरल की वामपंथी सरकार ने इस महामारी में भी मुस्लिम तुष्टीकरण की राजनीति नहीं छोड़ी है। गत दिनों उसने बकरीद के लिए कोरोना के नियमों में भारी छूट दे दी। इस कारण बाजारों में भारी भीड़ उमड़ी। लोगों ने न तो सामाजिक दूरी का पालन किया और न ही मास्क लगाया। इसी का नतीजा है कि केरल में प्रतिदिन 18,000 से ज्यादा कोरोना के नए मरीज मिल रहे हैं। इस समय केरल ही एक मात्र ऐसा राज्य है, जहां सबसे अधिक कोरोना के मरीज अस्पतालों में भर्ती हो रहे हैं। दिन—प्रतिदिन यह संख्या बढ़ भी रही है। इसका असर केरल के नजदीकी राज्यों में भी दिखने लगा है। विशेषज्ञ यह भी कह रहे हैं कि केरल के कारण एक बार फिर से पूरे देश में कोरोना के मरीज बढ़ सकते हैं।

इसके लिए पूरी तरह केरल की सरकार जिम्मेदार है। उसने इस महामारी में भी राज्य के लगभग 27 प्रतिशत मुसलमानों को सार्वजनिक रूप से बकरीद मनाने की इजाजत दे दी। यहां तक कि जब पिछले दिनों सर्वोच्च न्यायालय में यह मामला पहुंचा था, तब केरल सरकार ने बड़ी बेशर्मी के साथ अपनी तुष्टीकरण की राजनीति को छिपाने के लिए कहा था कि बाजार खोलने की मांग व्यापारी संगठनों ने की थी। इसके बाद सर्वोच्च न्यायालय ने कहा था कि बाद में यदि केरल में कोरोना के मरीज बढ़े तो किसी भी व्यक्ति की शिकायत पर वह सख्त कार्रवाई करेगा। इसलिए अब सर्वोच्च न्यायालय को इस दिशा में कुछ करना ही चाहिए।  
Follow Us on Telegram


 

 

Comments
user profile image
Anonymous
on Jul 28 2021 10:58:55

iske zimedar supricoury

Also read: कुपवाड़ा में आतंकी साजिश नाकाम, हथियारों का जखीरा बरामद ..

Afghanistan में तालिबान के आतंक के बीच यहां गूंज रहा हरे राम का जयकारा | Panchjanya Hindi

अफगानिस्तान का एक वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें नवरात्रि के दौरान काबुल के एक मंदिर में हिंदू समुदाय लोग ‘हरे रामा-हरे कृष्णा’ का भजन गाते नजर आ रहे हैं।
#Panchjanya #Afghanistan #HareRaam

Also read: कोविड से मृत्यु होने वाले आश्रितों को धामी सरकार देगी 50 हजार ..

सीमांत क्षेत्र में बीआरओ प्रोजेक्ट की जिम्मेदारी महिला अधिकारी को
मुरादाबाद में तीन तलाक के दो मामले दर्ज

बरेली के स्मैक माफियाओं पर लगा सफेमा, 65 करोड़ की संपत्ति जब्त

बरेली जिले के दो स्मैक तस्करों पर पुलिस प्रशासन ने "सफेमा" कानून के तहत कार्रवाई की है। जिला प्रशासन ने आयकर विभाग की मदद से 65 करोड़ की संपत्ति को जब्त किया है। पश्चिम यूपी डेस्क बरेली जिले के दो स्मैक तस्करों पर पुलिस प्रशासन ने "सफेमा" कानून के तहत कार्रवाई की है। जिला प्रशासन ने आयकर विभाग की मदद से 65 करोड़ की संपत्ति को जब्त किया है। बरेली में मीरगंज, फतेहगंज के स्मैक के अड्डों को ध्वस्त करने के उद्देश्य से जिला प्रशासन ने चिट्टा या सफेदा का धंधा करने वाले दो बड़े ग ...

बरेली के स्मैक माफियाओं पर लगा सफेमा, 65 करोड़ की संपत्ति जब्त