पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

भारत

ऑस्कर में नहीं जाएगी फिल्म 'सरदार उधम सिंह', अंग्रेजों के प्रति घृणा दिखाने की बात आ रही सामने

WebdeskOct 26, 2021, 05:10 PM IST

ऑस्कर में नहीं जाएगी फिल्म 'सरदार उधम सिंह', अंग्रेजों के प्रति घृणा दिखाने की बात आ रही सामने
सरदार उधम सिंह की बॉयोपिक का पोस्टर

जलियांवाला बाग नरसंहार की पृष्ठभूमि पर महान क्रांतिकारी सरदार उधम सिंह की बॉयोपिक हाल ही में ओटीटी पर रिलीज हुई है। लेकिन, यह फिल्म एकेडमी अवार्ड्स यानी ऑस्कर के लिए नहीं भेजी जाएगी। फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया ने इसे ऑस्कर की एंट्री के लिए बाहर कर दिया है। अब इस तरह की खबरें आ रही हैं कि जूरी का मानना था कि इसमें अंग्रेजों के प्रति घृणा दिखाई गई है। हालांकि अभी फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया ने इस तरह की कोई पुष्टि नहीं की है।

बॉयोपिक सरदार उधम सिंह में विक्की कौशल मुख्य भूमिका में हैं। इसका निर्देशन शूजित सरकार ने किया है। इसे ओटीटी पर दर्शक काफी पसंद कर रहे हैं। सरदार उधम सिंह की भूमिका के लिए निर्माताओं ने पहले अभिनेता इरफान खान को चुना था, लेकिन उनके निधन के बाद विक्की कौशल ने भूमिका निभाई।

बचपन का नाम शेर सिंह था

महान देशभक्त सरदार उधम सिंह का जन्म 26 दिसंबर 1899 को पंजाब के संगरूर जिले के सुनाम गांव में हुआ था। उनका बचपन का नाम शेर सिंह था। जब वह करीब सात साल के थे उसी समय उनके माता-पिता का निधन हो गया। इसके बाद वह और उनके भाई अमृतसर के सेंट्रल खालसा अनाथालय में रहे। कहा जाता है कि यहीं पर लोग उन्हें उधम सिंह पुकारने लगे। 13 अप्रैल 1919 को बैसाखी थी और अमृतसर के जलियांवाला बाग में एक सभा रखी गई थी। सभा शांतिपूर्ण चल रही थी। इसमें हजारों लोग थे। उसी दौरान जनरल डायर वहां फौज के साथ पहुंचा और सभा पर गोलियां बरसाने का आदेश दिया। कुछ ही देर में वहां हजारों निर्दोष लोगों की लाशें बिछ गईं। इस नरसंहार ने सरदार उधम सिंह को झकझोर दिया था।

Comments
user profile image
Anonymous
on Oct 28 2021 18:40:34

ऑस्कर यूरोप और अमेरिका वालों ने अपने लिए बनाया है और उसको विश्व में फेमस कर दिया है आप भी अपने पुरस्कारों को विश्व में फेमस करके दूसरों को ललचा सकते हैं फिलहाल उधम सिंह फिल्म को सरकार स्वयं ही सम्मानित करें हर विश्वविख्यात कर दें

Also read:तिहाड़ जेल में भूख हड़ताल पर बैठा क्रिश्चिन मिशेल, अगस्ता वेस्टलैंड मामले का है आरोपी ..

UP Chunav: Lucknow के इस मुस्लिम भाई ने खोल दी Akhilesh-Mulayam की पोल ! | Panchjanya

योगी जी या अखिलेश... यूपी का मुसलमान किसके साथ? इसको लेकर Panchjanya की टीम ने लखनऊ में एक मुस्लिम रिक्शा चालक से बात की. बातों-बातों में इस मुस्लिम भाई ने अखिलेश और मुलायम की पोल खोलकर रख दी.सुनिए ये योगी जी को लेकर क्या सोचते हैं और यूपी में 2022 में किसपर भरोसा करेंगे.
#Panchjanya #UPChunav #CMYogi

Also read:हनुमान धाम के दर्शन करने पहुंचे अभिनेता रजा मुराद, कहा- भगवान राम मेरे आदर्श ..

दुनियाभर के लोगों को आकर्षित करता रहा है वृंदावन : प्रधानमंत्री
देश में 24 घंटे में आए 8 हजार से अधिक कोरोना केस, वैक्सीनेशन का आंकड़ा 121 करोड़ के पार

अंग प्रत्यारोपण में भारत अब अमेरिका, चीन के बाद तीसरे स्थान पर: मनसुख मांडविया

भारत में 2012-13 के मुकाबले अंग प्रत्‍यारोपण में करीब चार गुणा की वृद्धि हुई है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण अंग दान और प्रत्‍यारोपण में कमी आई।    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने शनिवार को कहा कि अंग प्रत्‍यारोपण में भारत अब अमेरिका और चीन के बाद दुनिया में तीसरे स्‍थान पर आ गया है। 12वें भारतीय अंगदान दिवस पर मंडाविया ने शनिवार को कहा कि भारत में अंगदान की दर 2012-13 की तुलना में लगभग चार गुना बढ़ी है। ...

अंग प्रत्यारोपण में भारत अब अमेरिका, चीन के बाद तीसरे स्थान पर: मनसुख मांडविया