पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

राज्य

ठाकुरगंज में एक बार फिर जिहादियों का उन्माद

संजीव कुमार

संजीव कुमारOct 26, 2021, 01:02 PM IST

ठाकुरगंज में एक बार फिर जिहादियों का उन्माद
ठाकुरगंज रेलवे स्टेशन का एक हिस्सा। इसके आसपास बांग्लादेशी घुसपैठियों का जमावड़ा बढ़ता जा रहा है।

 

किशनगंज जिले के ठाकुरगंज में 23 अक्तूबर को शराब माफिया सिकंदर के साथ मिलकर जिहादियों की एक भीड़ ने पुलिस पर हमला कर दिया। कहा जा रहा है इस भीड़ में बांग्लादेशी घुसपैठिए भी शामिल थे।



बिहार में किशनगंज जिले के ठाकुरगंज में जिहादियों ने एक बार फिर से पुलिस दल पर हमला बोला है। पुलिस जब शराब और लॉटरी माफिया सिकंदर को पकड़ने गई तो उन पर इन लोगों ने हमला कर दिया। पहले तो पुलिस को पीछे हटना पड़ा, लेकिन अंततः अभियुक्त सिकंदर और उसकी पत्नी अंगूरी को गिरफ्तार करने में सफल रही। दरअसल, बिहार का सीमावर्ती क्षेत्र पिछले कुछ वर्षों से काफी संवेदनशील होता जा रहा है। यहां के कुछ जिलों की सीमा बांग्लादेश के काफी समीप है।

किशनगंज 'चिकन नेक' के अंतर्गत है। चीन, नेपाल और बांग्लादेश के समीप रहने से यह क्षेत्र अत्यंत संवेदनशील है। बिहार के 13 जिले नेपाल की सीमा से सटे हैं। विगत एक दशक में इन इलाकों में अचानक जनसांख्यिकीय बदलाव ने यहां के स्थानीय लोगों के जीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है। कई जिलों में पिछले एक दशक में मुस्लिम बहुसंख्यक हो गए हैं। किशनगंज की 80 प्रतिशत से अधिक आबादी मुस्लिम हो चुकी है। जनसांख्यिकी बदलाव का असर इस क्षेत्र पर साफ दिख रहा है।

गत 23 अक्तूबर को ठाकुरगंज थानान्तर्गत वशीरनगर में जिहादियों ने पुलिस पर उस वक्त हमला बोल दिया, जब पुलिस वहां के शराब माफिया सिकंदर के घर छापा मारने पहुंची। 22 अक्तूबर को पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि वशीरनगर में सिकंदर के घर से शराब का कारोबार चलता है। इसलिए पुलिस ने उसके घर पर छापा मारा तो सिकंदर और उसके लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया। कहा जा रहा है कि सिकंदर बांग्लादेशी घुसपैठियों को पालता है और हमले में वही लोग शामिल हैं।

जिहादी भीड़ द्वारा पुलिस पर हमले की ऐसी घटनाएं किशनगंज में पहले भी घटती रही हैं। इसी वर्ष अप्रैल माह में किशनगंज से सटे पश्चिम बंगाल के पंथापाड़ा में तहकीकात के लिए दल—बल के साथ गए किशनगंज थाना के थानाध्यक्ष अश्विनी कुमार पर भीड़ ने हमला बोल दिया था, जिसमें वे शहीद हो गए थे।

 

 
 

Comments

Also read:पंजाब कांग्रेस में गुटबाजी चरम पर, सिद्धू के बाद चन्‍नी सरकार पर मनीष तिवारी का हमला ..

UP Chunav: Lucknow के इस मुस्लिम भाई ने खोल दी Akhilesh-Mulayam की पोल ! | Panchjanya

योगी जी या अखिलेश... यूपी का मुसलमान किसके साथ? इसको लेकर Panchjanya की टीम ने लखनऊ में एक मुस्लिम रिक्शा चालक से बात की. बातों-बातों में इस मुस्लिम भाई ने अखिलेश और मुलायम की पोल खोलकर रख दी.सुनिए ये योगी जी को लेकर क्या सोचते हैं और यूपी में 2022 में किसपर भरोसा करेंगे.
#Panchjanya #UPChunav #CMYogi

Also read:J&K में ‘ऑपरेशन इंसाफ’ से एक कदम दूर सुरक्षा बल, आम लोगों की हत्या करने वाले सभी आतंक ..

इनामी स्मैक तस्कर रिफाकत गिरफ्तार, नेपाल तक था नेटवर्क
पीएम खाद कारखाने का करेंगे लोकार्पण, आयात में आएगी भारी कमी

बिहार के दरभंगा में पहला ज्योतिष ओपीडी शुरू

दरभंगा स्थित राजकीय महारानी रमेश्वरी भारतीय चिकित्सा विज्ञान संस्थान में देश के पहले ज्योतिष चिकित्सा ओपीडी का शुभारंभ 28 नवंबर को हुआ। इसके साथ ही यह संस्थान भारत का पहला ऐसा आयुर्वेदिक अस्पताल बन गया, जहां ज्योतिषशास्त्र द्वारा चिकित्सा शुरू की गई। माना जाता है कि आयुर्वेद के साथ ज्योतिषशास्त्र की सहायता ली जाए तो किसी रोग की चिकित्सा बहुत ही आसान हो जाती है। बता दें कि आयुर्वेद चिकित्सा कर्म काल के अधीन है और काल की सही गणना करने वाला एक मात्र शास्त्र ज्योतिषशास्त्र है। इसलिए यह माना जाता ...

बिहार के दरभंगा में पहला ज्योतिष ओपीडी शुरू