पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

कांग्रेस विधायक का बेटा गिरफ्तार, 6 माह से बलात्‍कार मामले में फरार था

WebdeskOct 26, 2021, 03:49 PM IST

कांग्रेस विधायक का बेटा गिरफ्तार, 6 माह से बलात्‍कार मामले में फरार था
आरोपी करण मोरवाल, गृह मंत्री नरोत्‍तम मिश्रा

मध्‍य प्रदेश में उज्‍जैन के बड़नगर से कांग्रेस विधायक मुरली मोरवाल के 30 वर्षीय बेटे करण मोरवाल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बलात्‍कार के एक मामले में करण 6 माह से फरार चल रहा था।


2 अप्रैल, 2021को 23 वर्षीया युवती ने उसके खिलाफ बलात्‍कार का मुकदमा दर्ज कराया था। पीडि़ता कांग्रेस कार्यालय में काम करती थी। आरोप है कि 14 फरवरी, 2021 को करण उसे होटल में ले गया था। वहां उसने उसे ड्रिंक में नशा मिलाकर पिलाया। इसके बाद वह उसे अपने फ्लैट पर ले गया और उसके साथ बलात्‍कार किया। करण ने बार-बार शादी का झांसा देकर उसका यौन शोषण किया।

कुछ दिन पहले ही राज्‍य के गृह मंत्री नरोत्‍तम मिश्रा ने चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर आरोपी दो दिन में समर्पण नहीं किया तो ऐसी कार्रवाई की जाएगी कि वह मध्यप्रदेश में नजीर बन जाएगा। साथ ही, उन्‍होंने उसकी गिरफ्तारी पर घोषित इनाम की राशि 15,000 रुपये से बढ़ाकर 25,000 रुपये करने का आदेश दिया था। शुरुआत में करण पर 5,000 रुपये का इनाम रखा गया था। इससे पहले 19 अक्‍तूबर को इंदौर पुलिस ने करण के भाई से पूछताछ की थी, लेकिन आरोपी के बारे में ठोस जानकारी नहीं मिली।

उज्‍जैन के मक्‍सी से करण की गिरफ्तारी के बाद नरोत्तम मिश्रा ने कहा, ‘मैंने दीवाली से पहले गिरफ्तारी की बात कही थी। उसकी गिरफ्तारी के लिए सोमवार से लगातार दबिश दी जा रही थी।‘ साथ ही, कहा कि कांग्रेस के नेता महिला अधिकारों की बात करते हैं, लेकिन बीते 6 माह में कांग्रेस के किसी नेता ने पीडि़ता का हालचाल नहीं पूछा। इसी से कांग्रेस की दोहरी मानसिकता उजागर होती है।

बता दें कि पीडि़त युवती की शिकायत पर करण मोरवाल के खिलाफ भादंसं की धारा 376 (बलात्कार), 376 (2) एन (एक से अधिक बार बलात्कार), 376 (2) जे, 506 (आपराधिक धमकी) और 294 (सार्वजनिक स्थानों पर अश्लील कृत्य) के तहत मामला दर्ज किया गया था। मध्य प्रदेश उच्‍च न्‍यायालय ने करण की जमानत याचिका भी खारिज कर दी थी। पुलिस ने उसकी संपत्तियों की कुर्की के लिए याचिका दायर की थी।

Comments

Also read:विपक्षी हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल हुआ पास ..

UP Chunav: Lucknow के इस मुस्लिम भाई ने खोल दी Akhilesh-Mulayam की पोल ! | Panchjanya

योगी जी या अखिलेश... यूपी का मुसलमान किसके साथ? इसको लेकर Panchjanya की टीम ने लखनऊ में एक मुस्लिम रिक्शा चालक से बात की. बातों-बातों में इस मुस्लिम भाई ने अखिलेश और मुलायम की पोल खोलकर रख दी.सुनिए ये योगी जी को लेकर क्या सोचते हैं और यूपी में 2022 में किसपर भरोसा करेंगे.
#Panchjanya #UPChunav #CMYogi

Also read:विपक्षी हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल हुआ पास ..

विपक्षी हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल हुआ पास
विपक्षी हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल हुआ पास

शिक्षा : भाषाओं के लिए आगे आई भारत सरकार

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने भारतीय भाषाओं के विकास, विलुप्त हो रही भाषाओं को फिर से जीवित करने और मातृ भाषा के माध्यम से रोजगार बढ़ाने पर सुझाव देने के लिए एक उच्चाधिकार समिति का गठन किया है। यह समिति सभी भारतीय भाषाओं में पठन सामग्री का निर्माण भी करेगी   हाल ही में भारत सरकार ने भारतीय भाषाओं के विकास के लिए एक उच्चाधिकार समिति बनाई है। शिक्षाविद् चमूकृष्ण शास्त्री की अध्यक्षता में गठित इस समिति में तीन सदस्य हैं। ये हैं- शिक्षा मंत्रालय में संयुक्त सचिव (भाषा), केंद्रीय भारतीय भाषा ...

शिक्षा : भाषाओं के लिए आगे आई भारत सरकार