पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

विश्व

अब 30 से अधिक देशों में मान्य हुआ भारत का कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट

WebdeskOct 15, 2021, 12:02 PM IST

अब 30 से अधिक देशों में मान्य हुआ भारत का कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट
प्रतीकात्मक चित्र

भारत में कोरोना वायरस के विरुद्ध टीकाकरण अभियान लगातार कामयाबी पा रहा है।
आज भारत 100 करोड़ लोगों के टीकाकरण का आंकड़ा छूने वाला है



आखिरकार सिर्फ ब्रिटेन ही नहीं, तीस से ज्यादा देशों ने भारत के कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्य करने का फैसला कर लिया है। अब इन देशों में भारत का कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट होने पर कोई आपत्ति नहीं की जाएगी। लेकिन कुछ देश हैं जिनके यात्रियों को भारत आने पर कोरोना की जांच कराने के साथ ही तमाम नियमों का पालन करना होगा। इन देशों में ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना, बांग्लादेश तथा चीन शामिल हैं।

जिन 30 से ज्यादा देशों ने भारत के कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्यता देने का फैसला किया है उनमें ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस, बेलारूस, नेपाल, बेलारूस, आर्मीनिया, लेबनान, बेल्जियम, यूक्रेन, सर्बिया और हंगरी शामिल हैं। ये देश भारत के साथ एक-दूसरे के कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्यता देने को लेकर तैयार हैं। लेकिन ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना, बांग्लादेश तथा चीन आदि कुछ देशों के कोरोना वैक्सीन सर्टीफिकेट भारत में मान्य नहीं हैं, इसलिए इन देशों से आने वाले यात्रियों को भारत पहुंचकर नियमों का पालन करने के साथ ही, कोरोना की जांच भी करानी होगी।

 

जिन 30 से ज्यादा देशों ने भारत के कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्यता देने का फैसला किया है उनमें ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस, बेलारूस, नेपाल, बेलारूस, आर्मीनिया, लेबनान, बेल्जियम, यूक्रेन, सर्बिया और हंगरी शामिल हैं। ये देश भारत के साथ एक-दूसरे के कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्यता देने को लेकर तैयार हैं।



भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने एक ट्वीट कर जानकारी दी है कि 'कोविड-19 वैक्सीन प्रमाणपत्र को आपस में मान्य करने को लेकर शुरुआत हुई है। भारत तथा हंगरी आपस में कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्य करने के लिए राजी हो गई हैं। इससे शिक्षा, कारोबार, पर्यटन तथा अन्य क्षेत्रों में आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।'

भारत में कोरोना वायरस के विरुद्ध टीकाकरण अभियान लगातार कामयाबी पा रहा है। आज भारत 100 करोड़ लोगों के टीकाकरण का आंकड़ा छूने वाला है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के दो दिन पहले के आंकड़े बताते हैं कि देश में 96 करोड़ से ज्यादा कोरोना रोधी टीके लगाए जा चुके हैं। भारत सरकार अपनी जरूरतें पूरी होने के बाद टीके दूसरे देशों को उपलब्ध कराने पर अपनी सहमति जता चुकी है।


 

 

Comments

Also read:पकड़ी गई ढाका की फातिमा, पुलिस ने बरामद की पाकिस्तान में बनी श्रीलंका के रास्ते आई 7 ..

UP Chunav: Lucknow के इस मुस्लिम भाई ने खोल दी Akhilesh-Mulayam की पोल ! | Panchjanya

योगी जी या अखिलेश... यूपी का मुसलमान किसके साथ? इसको लेकर Panchjanya की टीम ने लखनऊ में एक मुस्लिम रिक्शा चालक से बात की. बातों-बातों में इस मुस्लिम भाई ने अखिलेश और मुलायम की पोल खोलकर रख दी.सुनिए ये योगी जी को लेकर क्या सोचते हैं और यूपी में 2022 में किसपर भरोसा करेंगे.
#Panchjanya #UPChunav #CMYogi

Also read:चीनी कर्ज के मकड़जाल में फंसे युगांडा के एकमात्र हवाई अड्डे पर हुआ ड्रैगन का कब्जा ..

ग्‍वादर में अपने सम्‍मान के लिए 12 दिनों से प्रदर्शन कर रहे हजारों बलूच
पाकिस्तानियों के दिल से उतरे इमरान खान, 87 प्रतिशत जनता ने माना-देश गलत राह पर

सोलोमन द्वीप पर दंगे और आगजनी, ताइवान को छोड़ चीन के पाले में जाने के सरकार के फैसले से लोग नाराज

सोलोमन द्वीप समूह और ताइवान के बीच एक लंबे वक्त से सौहार्दपूर्ण संबंध रहे हैं, लेकिन इधर वहां की सरकार ने ताइवान से नाता तोड़कर चीन के पाले में जाने का मन बनाया है, इसे लेकर वहां के लोग बहुत नाराज हैं   आलोक गोस्वामी सोलोमन द्वीप के लोग इन दिनों बहुत आक्रोशित हैं। वे अपनी सरकार के ताइवान से दशकों पुराने संबंध तोड़कर चीन के पाले में जाने को लेकर गुस्से में हैं। पूरे द्वीप पर सरकार के प्रति अपनी नाराजगी जताते हुए लोगों ने दंगे कर दिए हैं, जगह—जगह आगजनी देखने में आई है। हालात इत ...

सोलोमन द्वीप पर दंगे और आगजनी, ताइवान को छोड़ चीन के पाले में जाने के सरकार के फैसले से लोग नाराज