पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

विश्व

इस्लामाबाद का मदरसा, तालिबान का झंडा और पाकिस्तान की पिटी पुलिस, मौलाना ने कहा-इस्लामाबाद में शरिया लागू हो गया

WebdeskSep 20, 2021, 06:15 PM IST

इस्लामाबाद का मदरसा, तालिबान का झंडा और पाकिस्तान की पिटी पुलिस, मौलाना ने कहा-इस्लामाबाद में शरिया लागू हो गया
इस्लामाबाद के जामिया हफ्सा मदरसे की छत पर लगे तालिबानी झंडे। (प्रकोष्ठ में) बंदूक थामे मौलवी अब्दुल अजीज


इस्लामाबाद के एक मदरसे की छत पर तालिबानी झंडे टांग दिये गये। कठमुल्लों की इस हरकत से हड़कम्प मच गया। लोग वीडियो बनाने लगे जो खूब वायरल हुई। खबर पुलिस तक पहुंची और वह तालिबान के उन झंडों को उतारने पहुंच गई, लेकिन विरोध के कारण उतार नहीं पाई


पाकिस्तान लाख कोशिश करे कि अफगानिस्तान में तालिबान के बंदूक के दम पर किए गए कब्जे में पाकिस्तान ने कोई मदद नहीं कि है, लेकिन उस देश के अपरिपक्व मंत्री और कठमुल्ले अपनी हरकतों और बयानों से साफ जता देते हैं कि मजहबी तालिबान आतंकियों को उनका पूरा समर्थन है। कल ही इस्लामाबाद में भी कुछ ऐसा हुआ कि इस संदर्भ में झूठे पाकिस्तान का नकाब एक बार फिर उतर गया। राजधानी इस्लामाबाद के एक मदरसे की छत पर तालिबानी झंडे टांग दिये गये। कठमुल्लों की इस हरकत से हड़कम्प मच गया। लोग वीडियो बनाने लगे जो खूब वायरल हुई। खबर पुलिस तक पहुंची और वह तालिबान के उन झंडों को उतारने पहुंच गई। लेकिन क्या मजाल कि वहां का मौलाना और उसके भड़काए लोग पुलिस को आसानी से ऐसा करने देते, वे पुलिस से ही भिड़ गये।

इस्लामाबाद का वह मदरसा है जामिया हफ्सा। इसी की छत पर मौलवी की कथित शह पर तालिबानी झंडे लगे दिये गये थे। इन झंडों को जब पुलिस उतारने गई तो गुस्साए मौलवी और भड़काए छात्र न सिर्फ दीवार बनकर खड़े हो गए, बल्कि पुलिस से ही टकरा गए। मदरसे का मौलाना अब्दुल अजीज और छात्रों से पुलिसकर्मियों को भारी विरोध का सामना करना पड़ा। बताते हैं, मदरसे में कुछ लोगों के पास एके 47 भी थीं। जामिया हफ्सा इस्लामामबाद का बड़ा मशहूर मदरसा है। इसी से तालिबानी झंडे उतराने पहुंची पुलिस को मौलाना अब्दुल अजीज और छात्र झंडा उतारने देने को किसी तरह राजी न हुए। फिर हुआ यह कि पुलिस झंडे उतारे बिना ही वापस लौट गई।

सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में साफ दिख रहा है कि कैसे मौलवी अब्दुल अजीज पुलिस वालों का धमका रहा है। वह मौलाना पुलिस वालों को जमकर लताड़ लगाता दिख रहा है। वह लगभग ताल ठोकता हुआ कह रहा है कि उसके इस्लामाबाद में शरिया कानून लागू करने की मांग की थी जिसे सरकार ने मान लिया है। वह धमकी के अंदाज में यह भी कहता सुनाई देता है कि मान जाओ, नहीं तो पाकिस्तानी तालिबान उन सबको सबक सिखाएगा

सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में साफ दिख रहा है कि कैसे मौलवी अब्दुल अजीज पुलिस वालों का धमका रहा है। वह मौलाना पुलिस वालों को जमकर लताड़ लगाता दिख रहा है। वह लगभग ताल ठोकता हुआ कह रहा है कि उसके इस्लामाबाद में शरिया कानून लागू करने की मांग की थी जिसे सरकार ने मान लिया है। वह मौलाना तो पुलिस वालों तक को 'हिदायत' देता दिख रहा है कि वे पुलिस की नौकरी छोड़ दें। वह धमकी के अंदाज में यह भी कहता सुनाई देता है कि मान जाओ, नहीं तो पाकिस्तानी तालिबान उन सबको सबक सिखाएगा। बताते हैं, उसी के इशारे पर मदरसे की बुर्का पहने छात्राएं बड़ी तादाद में छत पर जा पहुंची थीं और पुलिस के सामने दीवार बनकर खड़ी हो गई थीं।

खबरों से पता चलता है कि मदरसे पर वे तालिबानी झंडे जुमे के दिन यानी गत शुक्रवार को लगाए गए थे। पुलिस शनिवार को पुलिस उन्हें हटवाने पहुंची थी। लेकिन उसे ऐसी कड़ी टक्कर मिली कि बैरंग लौटना पड़ा।

 

Comments

Also read: चीन जाकर फिर कोरोना वायरस की उत्पत्ति का पता लगाएगा विशेषज्ञों का नया दल ..

Afghanistan में तालिबान के आतंक के बीच यहां गूंज रहा हरे राम का जयकारा | Panchjanya Hindi

अफगानिस्तान का एक वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें नवरात्रि के दौरान काबुल के एक मंदिर में हिंदू समुदाय लोग ‘हरे रामा-हरे कृष्णा’ का भजन गाते नजर आ रहे हैं।
#Panchjanya #Afghanistan #HareRaam

Also read: अब 30 से अधिक देशों में मान्य हुआ भारत का कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट ..

काबुल के असमाई देवी मंदिर में भजन-कीर्तन की गूंज, अष्टमी पर भंडारे का आयोजन
दुनिया के 10 बड़े कर्जदारों में शामिल हुआ पाकिस्तान, अब मांगे से भी न मिलेगा कर्जा

इस्लामिक स्कूल में छात्रा को डंडों से बेरहमी से पीटा शिक्षकों ने

स्कूल ने लड़की को ऐसे घेर कर पीटने को सही भी ठहराया और कहा कि यह उन्होंने 'इस्लाम के कानून के हिसाब' से ही किया है नाइजीरिया के एक इस्लामिक स्कूल में लड़की को चार शिक्षकों द्वारा डंडों से पीटे जाने का वीडियो दुनिया भर में तेजी से वायरल हो रहा है। दरअसल ये शिक्षक उस छात्रा को 'सजा' देते दिख रहे हैं। 'सजा' देने वाले वे चारों पुरुष शिक्षक छात्रा को घेरकर पीटते दिख रहे हैं, जबकि वहां तमाशबीनों का मजमा लगा है। इतना ही नहीं, स्कूल ने लड़की को ऐसे घेर कर पीटने को सही भी ...

इस्लामिक स्कूल में छात्रा को डंडों से बेरहमी से पीटा शिक्षकों ने