पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

विश्व

जीत के जश्न में पगलाए पाकिस्तानी, नेताओं के उन्मादी बयानों के बाद कराची में हवाई फायरिंग में अनेक घायल

WebdeskOct 26, 2021, 01:44 PM IST

जीत के जश्न में पगलाए पाकिस्तानी, नेताओं के उन्मादी बयानों के बाद कराची में हवाई फायरिंग में अनेक घायल
गाड़ियों की छत पर खड़े होकर जीत का जश्न मनाते हुए पाकिस्तानी। (प्रकोष्ठ में) शेख रशीद

गृह मंत्री शेख रशीद ने मजहबी उन्माद भड़काने वाले बयान दिए बल्कि आम पाकिस्तानियों ने भी अपनी जड़ बुद्धि का खुलकर परिचय दिया


पाकिस्तानमें 24 अक्तूबर की रात को दुबई में टी 20 क्रिकेट मैच में भारत के विरुद्ध पाकिस्तान के जीतने के बाद न सिर्फ पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख रशीद ने मजहबी उन्माद भड़काने वाले बयान दिए बल्कि बड़ी संख्या में आम पाकिस्तानियों ने भी अपनी जड़ बुद्धि का खुलकर परिचय दिया। जीत के जश्न में हजारों लोग सड़कों पर उतरकर हुड़दंग मचाने लगे। और जैसा कि आम पाकिस्तानियों में चलन है, कई लोगों ने अपने कट्टे निकालकर हवा में गोलियां दागनी शुरू कर दीं। इस सब अफरातफरी में 12 लोगों को ये गोलियां लगीं और वे गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों में पाकिस्तानी पुलिस का एक सब-इंस्पेक्टर भी है। हालांकि पुलिस के अनुसार, गोलियां चलाने के एक भी आरोपी को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।

प्राप्त खबरों के अनुसार, इस्लामाबाद, कराची, रावलपिंडी तथा क्वेटा शहरों में हजारों लोग जश्न मनाने सड़कों पर उतर आए। नाचने-गाने, हो-हल्ला मचाने और पटाखे फोड़ने के अलावा उन्होंने हवा में गोलियां दागीं। अकेले कराची शहर के अलग-अलग हिस्सों से हवाई फायरिंग किए जाने के समाचार मिले हैं। कराची शहर में ओरंगी टाउन सेक्टर-4, सचल गोठ, मलिर तथा चौरांगी में हवा में दागी गोलियों से दो लोग जख्मी हुए। पुलिस के अनुसार, गुलशन-ए-इकबाल इलाके में हवाई फायरिंग हुई जिसमें शामिल लोगों को रोकते हुए एक सब इंस्पेक्टर खुद वहां चल रहीं गोलियों से जख्मी हो गया।
 

इस्लामाबाद, कराची, रावलपिंडी तथा क्वेटा शहरों में हजारों लोग जश्न मनाने सड़कों पर उतर आए। नाचने-गाने, हो-हल्ला मचाने और पटाखे फोड़ने के अलावा उन्होंने हवा में गोलियां दागीं। अकेले कराची शहर के अलग-अलग हिस्सों से हवाई फायरिंग किए जाने के समाचार मिले हैं। कराची शहर में ओरंगी टाउन सेक्टर-4, सचल गोठ, मलिर तथा चौरांगी में हवा में दागी गोलियों से लोग जख्मी हुए।


 पाकिस्तान के नेता भी अपनी उन्मादी सोच दिखाने में पीछे कहां रहने वाले थे। गृह मंत्री शेख रशीद ने तो इसे 'इस्लाम की जीत' करार देते हुए, भारत के मुसलमानों को भी भड़काने के लिए, उन्हें भी जश्न मनाने को कहा क्योंकि उनके अनुसार, 'ये सारी दुनिया के मुसलमानों की जीत है'। उन्हें इस बात का भी 'अफसोस' कि 'केवल यही मैच देखने वे वहां न जा पाए'।

इस इकलौती जीत से पाकिस्तानी इतने बौराए हुए हैं कि न सिर्फ प्रधानमंत्री इमरान खान ने खुद ट्वीट करके टीम को जीत की बधाई दी, बल्कि सेना प्रमुख जनरल बाजवा ने भी ट्वीट के जरिए पाकिस्तान की टीम की तारीफ कीं।


 

Comments
user profile image
Anonymous
on Oct 27 2021 17:16:31

पागलो की हरकतें ऐसी ही होती हैं

Also read:चीनी कर्ज के मकड़जाल में फंसे युगांडा के एकमात्र हवाई अड्डे पर हुआ ड्रैगन का कब्जा ..

UP Chunav: Lucknow के इस मुस्लिम भाई ने खोल दी Akhilesh-Mulayam की पोल ! | Panchjanya

योगी जी या अखिलेश... यूपी का मुसलमान किसके साथ? इसको लेकर Panchjanya की टीम ने लखनऊ में एक मुस्लिम रिक्शा चालक से बात की. बातों-बातों में इस मुस्लिम भाई ने अखिलेश और मुलायम की पोल खोलकर रख दी.सुनिए ये योगी जी को लेकर क्या सोचते हैं और यूपी में 2022 में किसपर भरोसा करेंगे.
#Panchjanya #UPChunav #CMYogi

Also read:ग्‍वादर में अपने सम्‍मान के लिए 12 दिनों से प्रदर्शन कर रहे हजारों बलूच ..

पाकिस्तानियों के दिल से उतरे इमरान खान, 87 प्रतिशत जनता ने माना-देश गलत राह पर
सोलोमन द्वीप पर दंगे और आगजनी, ताइवान को छोड़ चीन के पाले में जाने के सरकार के फैसले से लोग नाराज

सेना की जमीन क्या शादी के मंडप बनाने को मिली है? पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने रक्षा सचिव से मांगा जवाब

कोर्ट ने फौज की जमीन के व्यावसायिक प्रयोग के मामले में देश के रक्षा सचिव से जवाब तलब किया है। पूछा गया है कि 'क्या सिनेमा तथा शादी के मंडपों को बनाने के पीछे कोई रक्षा से जुड़ा मकसद' है   पाकिस्तान में जो न हो सो कम है। पता चला है कि वहां सेना की जमीन पर शादी—ब्याह पर नाच—गाने हो रहे हैं। इतना ही नहीं, फौज की संरक्षित जमीन फिल्मों के लिए किराए पर देकर पैसे बनाए जा रहे हैं। यानी वहां की सेना ने ही देश के रक्षा अधिष्ठान का मखौल बनाकर रख दिया है। इस जानकारी पर पाकिस ...

सेना की जमीन क्या शादी के मंडप बनाने को मिली है? पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने रक्षा सचिव से मांगा जवाब