पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

नमाज के नाम पर सड़कों को अवरुद्ध करने को लेकर सिएट टायर्स कब जारी करेगा विज्ञापन, BJP सांसद ने लिखा पत्र

अश्वनी मिश्र

अश्वनी मिश्रOct 21, 2021, 04:07 PM IST

नमाज के नाम पर सड़कों को अवरुद्ध करने को लेकर सिएट टायर्स कब जारी करेगा विज्ञापन, BJP सांसद ने लिखा पत्र
आमिर खान वाले विज्ञापन को आड़े हाथ लेते हुए भाजपा सांसद ने CEAT Tyres को लिखा पत्र

उत्तर कन्नड़ से सांसद और भाजपा नेता अनंत कुमार हेगड़े ने सिएट टायर्स (CEAT Tyres) के एमडी और सीईओ को एक पत्र लिखकर नमाज के लिए सड़कों को अवरुद्ध करने से लोगों को होने वाली परेशानियों को लेकर एक विज्ञापन जारी करने का आग्रह किया है।


उत्तर कन्नड़ से सांसद और भाजपा नेता अनंत कुमार हेगड़े ने सिएट टायर्स (CEAT Tyres) के एमडी और सीईओ अनंत वर्धन गोयनका को पत्र लिखकर उनसे नमाज के लिए सड़कों को अवरुद्ध करने से लोगों को होने वाली परेशानियों को लेकर एक विज्ञापन जारी करने का आग्रह किया है।

दरअसल हेगड़े ने यह पत्र सिएट टायर्स के ‘जागरूकता अभियान’ वाले विज्ञापन के जवाब में लिखा है। विज्ञापन में फिल्म अभिनेता आमिर खान स्कूली बच्चों को यह कहते दिख रहे हैं, “सड़क गाड़ी चलाने के लिए है, पटाखे जलाने के लिए नहीं। सोसायटी में बम फोड़े, ताकि सड़क पर किसी को असुविधा ना हो।” वह कहते हैं, “सड़कें वाहन चलाने के लिए होती हैं, पटाखे फोड़ने के लिए नहीं।” बता दें कि यह विज्ञापन हिन्दुओं के त्योहार—दशहरा और दिपावली से ठीक पहले जारी किया गया। इसी को आड़े हाथों लेते हुए हेगड़े ने CEAT Tyres के सीईओ को लिखे पत्र में कहा है, “सार्वजनिक मुद्दों के प्रति आपकी चिंता की सराहना की जानी चाहिए। इस संबंध में मैं आपसे सड़कों पर लोगों की एक और समस्या का समाधान करने का अनुरोध करता हूँ। आप हर शुक्रवार को नमाज के नाम पर और मुसलमानों द्वारा अन्य मौकों पर सड़कों को अवरुद्ध करने को लेकर भी विज्ञापन जारी करें।”

 

 

 

उन्होंने पत्र में बताया है कि कैसे एम्बुलेंस और दमकल जैसे आपातकालीन वाहनों को भी सड़कों के ब्लॉक होने के कारण ट्रैफिक में फँसना पड़ता। इससे कई बार लोगों की जान भी चली जाती है। जैसा कि आमिर खान वाले विज्ञापन से कंपनी ने ‘जागरूकता’ फैलाने का काम किया है, वैसे ही भाजपा सांसद ने कंपनी से मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकर से होने वाले ध्वनि प्रदूषण को लेकर भी जागरूकता फैलाने का आग्रह किया है। 

हेगड़े ने कहा, “चूँकि आप आम जनता के सामने आने वाली समस्याओं के प्रति बेहद जागरूक और संवेदनशील हैं और आप भी हिंदू समुदाय से हैं, तो मुझे यकीन है कि आप सदियों से हिंदुओं के साथ किए जा रहे भेदभाव को महसूस कर सकते हैं।” साथ ही पत्र में उन्होंने उल्लेख किया कि कुछ हिंदू विरोधी अभिनेताओं के लिए यह एक आदर्श बन गया है कि वे अपनी खुद की बुराइयों को नजरअंदाज करते हुए हिंदू धर्म के बारे में सब कुछ गलत बताते हैं। 

Comments
user profile image
Anonymous
on Oct 22 2021 16:41:13

सड़क पर नमाज बंद होना चाहिए जय हिंदू राष्ट्र जय सनातन धर्म जय बाबा विश्वनाथ

Also read:विपक्षी हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल हुआ पास ..

UP Chunav: Lucknow के इस मुस्लिम भाई ने खोल दी Akhilesh-Mulayam की पोल ! | Panchjanya

योगी जी या अखिलेश... यूपी का मुसलमान किसके साथ? इसको लेकर Panchjanya की टीम ने लखनऊ में एक मुस्लिम रिक्शा चालक से बात की. बातों-बातों में इस मुस्लिम भाई ने अखिलेश और मुलायम की पोल खोलकर रख दी.सुनिए ये योगी जी को लेकर क्या सोचते हैं और यूपी में 2022 में किसपर भरोसा करेंगे.
#Panchjanya #UPChunav #CMYogi

Also read:शिक्षा : भाषाओं के लिए आगे आई भारत सरकार ..

संसद भवन पर खालिस्तानी झंडा फहराने की साजिश, खुफिया विभाग ने किया अलर्ट
मथुरा में 6 दिसंबर को  बाल गोपाल के जलाभिषेक कार्यक्रम को नहीं मिली अनुमति, धारा 144 हुई लागू

जी उठे महाराजा

एयर इंडिया एक निजी एयरलाइन थी जिसने उद्यमिता की उड़ान भरी और अपनी सेवाओं से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर साख बनाई। इसे देखते हुए इसके राष्ट्रीयकरण तक तो हालात ठीक थे परंतु राजनीति के चलते मनमानी व्यवस्थाओं और भीतर पलते भ्रष्टाचार ने इसे खोखला कर दिया। इससे साख में सुराख हुआ। विनिवेश से अब फिर महाराजा की साख लौटने की उम्मीद मनीष खेमका 68 वर्ष, यानी लगभग सात दशक बाद महाराजा फिर जी उठे। जी हां। 1953 में दुनिया में प्रतिष्ठा अर्जित करने वाली टाटा एयरलाइंस, जिसके शुभंकर थे ‘महाराजा’, का भार ...

जी उठे महाराजा