पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

राज्य

ईसाइयत में कन्वर्ट लोगों का कारनामा, अवैध बूचड़खाने में हथौड़े से मार रहे थे गायों को, गिरफ्तार

WebdeskOct 13, 2021, 04:24 PM IST

ईसाइयत में कन्वर्ट लोगों का कारनामा, अवैध बूचड़खाने में हथौड़े से मार रहे थे गायों को, गिरफ्तार
बूचड़खाने से घायल गाय को वाहन में लादते बचावकर्मी व आरोपियों से बरामद हथियार।

पंजाब में बड़े पैमाने पर हो रहे कन्वर्जन के दुष्परिणाम सामने आने लगे हैं। कन्वर्जन से सीमावर्ती इलाकों में अपराधों की संख्या बढ़ी है, जिसमें ताजा खुलासा एक ऐसे बूचडख़ाने के पटाक्षेप से हुआ, जिसे हाल ही में कन्वर्ट हुए लोग चला रहे थे।


 
राकेश सैन

पंजाब में बड़े पैमाने पर हो रहे कन्वर्जन के दुष्परिणाम सामने आने लगे हैं। कन्वर्जन से सीमावर्ती इलाकों में अपराधों की संख्या बढ़ी है, जिसमें ताजा खुलासा एक ऐसे बूचडख़ाने के पटाक्षेप से हुआ, जिसे हाल ही में कन्वर्ट हुए लोग चला रहे थे। अपराधियों की निर्दयता का प्रमाण देखो कि हथौड़े के वार से गायों को मारा जाता था और उसके बाद उसकी हड्डियां, मांस, चमड़ा उतारा जाता था। गिरफ्तार किए गए सभी हाल ही में ईसाई बने हैं।

    गुरदासपुर जिले के धारीवाल में पिछले लंबे समय से चल रही हड्डारोड़ी (जहां मृत पशुओं को एकत्रित किया जाता है) में अवैध बूचडख़ाने का पर्दाफाश हुआ। पुलिस के 40 जवानों ने आधी रात को आपरेशन चलाकर 11 लोगों को गिरफ्तार करके उन पर केस दर्ज किया है। सभी आरोपित धारीवाल के गांव कल्याणपुर व बदेशा के बीच आने वाले रास्ते में चल रहे हड्डारोड़ी कम अवैध बूचडख़ाने में जिन्दा गायों को मार रहे थे। दबिश के समय आरोपितों ने तीन गायों को सिर पर हथौड़े से वार करके मार दिया था। एक गाय अधमरी हालत में थी, जबकि चार को बचा लिया गया। गायों को उनकी नाक के अन्दर से रस्सी और पैरों से भी बांधा गया था। पुलिस ने आरोपितों को काबू करने के बाद गायों को पशु अस्पताल पहुंचाया है। मृत गायों का पोस्टमार्टम करवाकर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

इन पर मामला दर्ज
    आरोपितों में हड्डारोड़ी का मास्टरमाइण्ड नियामत मसीह निवासी तरीजा नगर, धारीवाल, रवि निवासी चक दीपेवाल (धारीवाल), विक्की पुत्र जेम्स मसीह निवासी तरीजा नगर, रवि पुत्र नियामत मसीह तरीजा नगर, थॉमस मसीह पुत्र जेम्स मसीह, जेम्स मसीह पुत्र कुन्दन मसीह, जॉनी पुत्र हैप्पी, तरीजा नगर, बलकार मसीह पुत्र सरदार मसीह तरीजा नगर, वसीक, नासक और तनवीर निवासी ननौटा, सहारनपुर, उत्तर प्रदेश शामिल हैं।

ऐसे पकड़ में आए आरोपित
    एसएसपी डॉ. नानक सिंह को सूचना मिली की कि कुछ लोग गायों को गांव कल्याणपुर में ले जाकर वहां पर उनका कत्ल करके कच्चा मास पैकेट में बन्द करके उसे अन्य स्थानों में बेचते हैं। इस पर डीएसपी राजेश कक्कड़, थाना सदर गुरदासपुर के एसएचओ जितेन्द्र कुमार और थाना धारीवाल के एसएचओ अमनदीप सिंह सहित भारी पुलिस बल ने रात दो बजे आपरेशन शुरू किया। सुबह पांच बजे तक कार्रवाई में पुलिस ने बड़ी संख्या में जिन्दा व घायल गायें बरामद कीं। गायों के ऐसे अंग भी बरामद किए गए, जिनसे मांस निकालने की तैयारी शुरू कर दी गई थी।

20 फीट का कंकाल का ढेर मिला
    दरअसल, जिस जगह पर यह बूचडख़ाना चल रहा था, वहां पर किसी भी व्यक्ति का दो मिनट तक खड़े रहना मुश्किल है। भयानक दुर्गन्ध को देखकर पुलिस अधिकारी भी दंग रह गए। बता दें कि मास्टर माइण्ड नियामत मसीह लम्बे समय से यहां पर गायों को मारकर उनका मांस बेच रहा था। यहां जानवरों के कंकालों का 20 फीट का ढेर मिला है।

    एसएसपी डा. नानक सिंह ने बताया कि यह पूरा आपरेशन पुलिस ने खुद किया है। रात्रि डेढ़ बजे से लेकर सुबह पांच बजे तक पुलिस के 40 जवान कार्रवाई में लगे रहे। उनका कहना है कि मामले के सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में आगे होने वाले अहम खुलासे भी किए जाएंगे। फिलहाल सभी आरोपित पुलिस की हिरासत में हैं।

 

 

Comments
user profile image
Anonymous
on Oct 16 2021 08:47:34

दुर्गेश देवांगन कवर्धा छत्तीसगढ़

user profile image
Anonymous
on Oct 16 2021 08:47:12

छत्तीसगढ़ कवर्धा और जशपुर में हिंदू धर्मावलंबियों पर कैसे अत्याचार हो रहे हैं यह भी पंचजन्य को पब्लिक को बताना चाहिए

user profile image
Anonymous
on Oct 13 2021 17:44:17

inko mot ki saza ho

Also read: जमीयत की इमारत का विरोध सीएम योगी के सामने पहुंचा ..

राष्ट्रीय सुरक्षा पर सियासत क्यों ? सिंघु बॉर्डर की घटना का जिम्मेदार कौन ?

राष्ट्रीय सुरक्षा पर सियासत क्यों ? सिंघु बॉर्डर की घटना का जिम्मेदार कौन ?
विशिष्ट अतिथि- कर्नल जयबंस सिंह, रक्षा विशेषज्ञ
तारीख- 15 अक्तूबर 2021
समय- सायं 5 बजे

#singhu #SinghuBorder #LakhbirSingh #defance #BSF #Punjab #Panchjanya #सिंघु_बॉर्डर

Also read: मेवात में व्यावसायिक प्रशिक्षण केवल मुस्लिम बच्चों के लिए ..

सीएम धामी के 100 दिन में 330 फैसले
उत्तरी दिनाजपुर में भाजपा नेता की हत्या, टीएमसी पर आरोप

भारी बारिश, भूस्खलन के चलते चार धाम यात्रा स्थगित, 6 लोगों की मौत

उत्तराखंड में भारी बारिश की वजह से चारधाम यात्रा स्थगित कर दी गयी है। सभी स्कूल बंद हैं और वर्षा—भूस्खलन से जनजीवन प्रभावित है। बे मौसम बारिश की मार से पिछले दो दिनों में 6 लोगों की जान जा चुकी है। उत्तराखंड में भारी बारिश की वजह से चारधाम यात्रा स्थगित कर दी गयी है। सभी स्कूल बंद हैं और वर्षा—भूस्खलन से जनजीवन प्रभावित है। बे मौसम बारिश की मार से पिछले दो दिनों में 6 लोगों की जान जा चुकी है। राज्य में दो दिनों से भारी बारिश होने से सबसे ज्यादा चारधाम यात्रा प्रभावित हुई है। शास ...

भारी बारिश, भूस्खलन के चलते चार धाम यात्रा स्थगित, 6 लोगों की मौत