पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

सहारनपुर में हो रहा मदरसे का विरोध, जानिए आखिर क्या है कारण

सहारनपुर में हो रहा मदरसे का विरोध, जानिए आखिर क्या है कारण

सहारनपुर के केंदुकी गांव में बन रही जमीयत ए उलेमा हिन्द की बिल्डिंग का गांव वालों ने भारी विरोध किया है।
विधायक की शिकायत पर डीएम अवधेश कुमार ने काम रुकवा दिया है।


सहारनपुरके केंदुकी गांव में बन रही जमीयत ए उलेमा हिन्द की बिल्डिंग का गांव वालों ने भारी विरोध किया है। विधायक की शिकायत पर डीएम अवधेश कुमार ने काम रुकवा दिया है। जमीयत के अध्यक्ष मौलाना मदनी का कहना है कि ये मदरसा नहीं है बल्कि स्काउट ट्रेनिंग सेंटर है।

अक्सर विवादों में घिरे रहने वाले जमीयत ए उलमा हिन्द के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना मदनी ने बिना किसी सरकारी अनुमति के कुदकी गांव में इमारत बनवानी शुरू कर दी।

गांव वालों को जब पता चला कि ये इमारत एक मदरसे की है तो वो विरोध पर उतर आए और उन्होंने इस बारे में विधायक से शिकायत की। विधायक ब्रजेश सिंह ने इस बारे में डीएम अवधेश सिंह को अवगत कराया। डीएम ने मौके पर एसडीएम राकेश कुमार को भेजा तो मालूम चला कि इमारत बिना नक्शे के, बिना किसी सरकारी अनुमति के बन रही है।

विवाद बढ़ता देख, मौलाना मदनी और दारुल उलूम के मोहतमिम मौलाना कासिम नौमानी ने बयान जारी कर कहा कि ये मदरसा नहीं बल्कि स्काउट गाइड ट्रेनिंग सेंटर खुल रहा है,जहां बच्चों को ट्रेनिंग दी जाएगी। इसकी अनुमति दिल्ली से स्काउट गाइड संस्था से ली गयी है।

जमीयत उलेमा हिन्द का स्काउट ट्रेनिंग सेंटर बनाये जाने का ये बयान किसी के गले नहीं उतर रहा। प्रशासन का कहना है कि किसी भी भवन निर्माण के लिए संस्था को नक्शा पास करवाना और जिला प्रशासन से अनुमति लेना एक जरूरी नियम है। एसडीएम राकेश कुमार ने कहा है कि फिलहाल निर्माण कार्य रुकवा दिया है और जमीयत से जमीन संबधी दस्तावेज अपने कार्यालय में प्रस्तुत करने का नोटिस दिया है।

गांव के नागरिक महेश कुमार का कहना है कि स्काउट ट्रेनिंग सेंटर का नाम आगे कर मदनी अपनी करतूतों को छुपा नहीं सकते। ये मदरसे की इमारत बन रही है, जिसे हम बनने नहीं देगें।

 

Comments
user profile image
Anonymous
on Oct 17 2021 05:24:59

स्काउट ट्रेनिंग सेंटर के नाम पर दिल्ली की स्काउट संस्था के बहाने से केरल की तर्ज में पी एफ आई की गतिविधियों को बढावा देने की बू आ रही है.....

user profile image
Anonymous
on Oct 16 2021 16:05:13

जोभी निर्माण कार्य हुआ है वो भी बिना अनुमति के सभी तोड़ देना चाहिए

user profile image
Anonymous
on Oct 15 2021 22:17:58

बिल्कुल सही किया

user profile image
Anonymous
on Oct 15 2021 13:14:35

hm tumhare sath h

Also read:विपक्षी हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल हुआ पास ..

UP Chunav: Lucknow के इस मुस्लिम भाई ने खोल दी Akhilesh-Mulayam की पोल ! | Panchjanya

योगी जी या अखिलेश... यूपी का मुसलमान किसके साथ? इसको लेकर Panchjanya की टीम ने लखनऊ में एक मुस्लिम रिक्शा चालक से बात की. बातों-बातों में इस मुस्लिम भाई ने अखिलेश और मुलायम की पोल खोलकर रख दी.सुनिए ये योगी जी को लेकर क्या सोचते हैं और यूपी में 2022 में किसपर भरोसा करेंगे.
#Panchjanya #UPChunav #CMYogi

Also read:शिक्षा : भाषाओं के लिए आगे आई भारत सरकार ..

संसद भवन पर खालिस्तानी झंडा फहराने की साजिश, खुफिया विभाग ने किया अलर्ट
जी उठे महाराजा

नेताओं, अफसरों ने की एयर इंडिया की दुर्दशा

एयर इंडिया में नेताओं और अधिकारियों के मनमाने फैसलों से कंपनी की दुर्दशा हो गई थी। अब विनिवेश के बाद इसके टाटा के पास चले जाने से सार्वजनिक धारणा, गुणवत्ता में सुधार की उम्मीद की जा रही है। इससे बाजार में भारत की हिस्सेदारी बढ़ सकेगी और उसे सीधा लाभ होगा जितेंद्र भार्गव एयर इंडिया के विनिवेश को आप तीन-चार दृष्टियों से देख सकते हैं। जेआरडी टाटा ने 1932 में एयरलाइन प्रारंभ की। उन्होंने बेहतरीन एयरलाइन बनाई, अंतराष्ट्रीय स्तर पर नाम कमाया और भारत सरकार ने 1953 में एयर इंडिया का राष्ट्रीयकरण कर ...

नेताओं, अफसरों ने की एयर इंडिया की दुर्दशा