पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

राज्य

बरेली के स्मैक माफियाओं पर लगा सफेमा, 65 करोड़ की संपत्ति जब्त

बरेली के स्मैक माफियाओं पर लगा सफेमा, 65 करोड़ की संपत्ति जब्त

बरेली जिले के दो स्मैक तस्करों पर पुलिस प्रशासन ने "सफेमा" कानून के तहत कार्रवाई की है।
जिला प्रशासन ने आयकर विभाग की मदद से 65 करोड़ की संपत्ति को जब्त किया है।

पश्चिम यूपी डेस्क

बरेली जिले के दो स्मैक तस्करों पर पुलिस प्रशासन ने "सफेमा" कानून के तहत कार्रवाई की है। जिला प्रशासन ने आयकर विभाग की मदद से 65 करोड़ की संपत्ति को जब्त किया है। बरेली में मीरगंज, फतेहगंज के स्मैक के अड्डों को ध्वस्त करने के उद्देश्य से जिला प्रशासन ने चिट्टा या सफेदा का धंधा करने वाले दो बड़े गैंगस्टरों के खिलाफ "स्मगलर एंड फॉरेन एक्सचेंज मैनिपुलेटर्स एक्ट यानी 'सफेमा' धाराएं लगाई हैं।

पुलिस के मुताबिक शाहिद खान प्रधान, फ़ैयाज़ मिराज के खिलाफ "सफेमा" लगाया गया है। इनके पास से बीस किलो स्मैक बरामद हुई थी। तस्कर शाहिद की 51.65 करोड़ की सम्पत्तियों का आकलन कर पुलिस प्रशासन ने आयकर विभाग के सहयोग से जब्त कर लिया है। दूसरे गैंगस्टर तैमूर भोला की 13.50 करोड़ की संपत्ति पुलिस प्रशासन ने जब्त की है और उसे भी 'सफेमा' एक्ट के तहत निरुद्ध किया गया है। पुलिस अधीक्षक राजीव अग्रवाल ने बताया कि "सफेमा" और संपत्ति जब्त करने के बारे में आरोपियों को नोटिस, जेल में और इनके रिश्तेदारों के जरिए तामील करवा दिए गए हैं। आगामी 25 अक्टूबर को न्यायालय में पुलिस अपना पक्ष भी रखेगी।

गौरतलब है कि बरेली का नाम एशिया के सबसे बड़े स्मैक के अड्डे के नाम से जाना जाने लगा था। जिस पर यूपी की योगी सरकार ने कानून का डंडा पहली बार सख्ती से चलाया है। यहां से स्मैक यूपी के शहरों के अलावा उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, नेपाल तक भेजी जा रही थी।

 

Comments

Also read:इनामी स्मैक तस्कर रिफाकत गिरफ्तार, नेपाल तक था नेटवर्क ..

UP Chunav: Lucknow के इस मुस्लिम भाई ने खोल दी Akhilesh-Mulayam की पोल ! | Panchjanya

योगी जी या अखिलेश... यूपी का मुसलमान किसके साथ? इसको लेकर Panchjanya की टीम ने लखनऊ में एक मुस्लिम रिक्शा चालक से बात की. बातों-बातों में इस मुस्लिम भाई ने अखिलेश और मुलायम की पोल खोलकर रख दी.सुनिए ये योगी जी को लेकर क्या सोचते हैं और यूपी में 2022 में किसपर भरोसा करेंगे.
#Panchjanya #UPChunav #CMYogi

Also read:इनामी स्मैक तस्कर रिफाकत गिरफ्तार, नेपाल तक था नेटवर्क ..

इनामी स्मैक तस्कर रिफाकत गिरफ्तार, नेपाल तक था नेटवर्क
इनामी स्मैक तस्कर रिफाकत गिरफ्तार, नेपाल तक था नेटवर्क

पीएम खाद कारखाने का करेंगे लोकार्पण, आयात में आएगी भारी कमी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ड्रीम प्रोजेक्ट गोरखपुर का खाद कारखाना पूरी तरह तैयार हो चुका है. योगी आदित्यनाथ जब गोरखपुर के सांसद थे. उस समय भी वे खाद कारखाने के लिए लगातार संघर्षरत रहे. वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 जुलाई 2016 को नए खाद कारखाने का शिलान्यास किया. मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ ने इस दिशा में तेजी से कार्य शुरू कराया. आगामी 7 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस कारखाने का उद्घाटन करेंगे.   हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड द्वारा निर्मित ...

पीएम खाद कारखाने का करेंगे लोकार्पण, आयात में आएगी भारी कमी