पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

भारत

टाइगर रिजर्व में कथित घपलों की वजह से गयी फॉरेस्ट चीफ और वाइल्ड लाइफ चीफ की कुर्सी

टाइगर रिजर्व में कथित घपलों की वजह से गयी फॉरेस्ट चीफ और वाइल्ड लाइफ चीफ की कुर्सी
प्रतीकात्मक चित्र

एनटीसीए और हाई कोर्ट नैनीताल ने सरकार को लगायी थी फटकार

 

उत्तराखंड में टाइगर रिजर्व में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा था, यह बात सरकार के सम्मुख नैनीताल हाई कोर्ट और राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए) ने उठाई थी। सरकार ने इन मामलों में सख्त कदम उठाते हए उत्तराखंड के फॉरेस्ट चीफ राजीव भरतरी और वाइल्ड लाइफ चीफ जे एस सुहाग को उनके पदों से हटा दिया है। उत्तराखंड बनने के बाद वन विभाग में अब तक की सबसे बड़ी कारवाई में तीस से ज्यादा आईएफएस अधिकारियों का तबादला कर दिया गया है। इस मामले में मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने स्पष्ट किया है कि कॉर्बेट टाइगर रिजर्व और राजा जी टाइगर रिजर्व में कुछ मामले सामने आने पर ये तबादले किये गये हैं।

जानकारी के मुताबिक कॉर्बेट टाइगर रिजर्व में अतिक्रमण और अपने चहेतों को रास्ता देने के मामलों को लेकर सरकार की काफी किरकिरी हुई। एनटीसीए ने जांच में इन आरोपों को सही पाया और इस पर एक जनहित याचिका भी नैनीताल हाई कोर्ट में सुनी गई। सरकार को इस मामले में हाई कोर्ट ने फटकार लगाई थी। ऐसा ही मामला राजा जी टाइगर रिजर्व में भी सामने आया। दोनों जंगलों में तैनात आईएफएस अधिकारियों की लिप्तता को देखते हुए अन्य आईएफएस अधिकारी इस मामले की जांच तक करने को तैयार नहीं हुए। घपलों में सीधे-सीधे फॉरेस्ट चीफ राजीव भरतरी और वाइल्ड लाइफ के चीफ वॉर्डन जे एस सुहाग पर आंच आ रही थी। दोनों संवैधानिक संस्थानों को जवाब देना मुश्किल हो गया था। ऐसे में मुख्यमंत्री ने तत्काल फैसला लेते हुए शीर्ष वनाधिकारियों को ही बदल दिया। नए फॉरेस्ट चीफ के रूप में विनोद कुमार सिंघल और वाइल्ड लाइफ चीफ के रूप में डॉ पराग मधुकर धकाते की नियुक्ति हुई है। इसके साथ-साथ 30 अन्य आईएफएस भी बदले गए हैं।

Comments

Also read:एमएसपी पर बातचीत के लिए किसान मोर्चा ने तय किए पांच नाम, आंदोलन पर दो फाड़ ..

UPElection2022 - यूपी की जनता का क्या है राजनीतिक मूड? Panchjanya की टीम ने जनता से की बातचीत सुनिए

up election 2022 क्या कहती है लखनऊ की जनता ? आप भी सुनिए जानिए
up election 2022 opinion poll
UP Assembly election 2022

up election 2022
up election 2022 opinion poll
UP Assembly election 2022

Also read:चीनी सैनिकों को जवाब देने के लिए सेना की तैयारी में एक और कदम, अब अफसर पढ़ेंगे मंदारिन ..

कोरोना अपडेट:  देशभर में 24 घंटे में 8 हजार से ज्यादा मिले नए मरीज, वैक्सीनेशन का आंकड़ा 126 करोड़ के पार
तीन राज्‍यों पर चक्रवाती तूफान का खतरा, एनडीआरएफ की टीमें तैनात

जयंती विशेष: भारतवर्ष को प्राप्त ईश्वर का प्रसाद थे राजेन्द्र बाबू

आज भारत रत्न डॉ. राजेंद्र प्रसाद के जन्मदिन पर राष्ट्र को एकमेव स्वर में यही कहना होगा कि सोमनाथ मंदिर के जीर्णोद्धार के बाद प्रथम राष्ट्रपति द्वारा किया उसका लोकार्पण उनके हर पुण्यों से बड़ा पुण्य रहा. भारत में कथित पंथनिरपेक्षता को दुत्कार कर स्वतंत्र भारत के आगे बढ़ते रहने की पुण्यायी के अगुआ ‘देशरत्न’ ही थे. भारत के प्रथम राष्ट्रपति भारत रत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद का आज जन्मदिन है. यह दिन यूं ही बीत गया, लेकिन कांग्रेस के किसी भी खेमे में आज कोई चहल-पहल नहीं है. स्वाभाविक ही ...

जयंती विशेष: भारतवर्ष को प्राप्त ईश्वर का प्रसाद थे राजेन्द्र बाबू