पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

महाराणा प्रताप की चेतक आरूढ़ कांस्य प्रतिमा जयपुर से अयोध्या रवाना

WebdeskJun 13, 2021, 07:49 PM IST

महाराणा प्रताप की चेतक आरूढ़ कांस्य प्रतिमा जयपुर से अयोध्या रवाना

महा पराक्रमी राणा प्रताप की 12 फुट की प्रतिमा अयोध्या में सरयू तट पर स्थापित की जाएगी। जयपुर के शिल्पी महावीर भारतीय ने लॉस्ट वैक्स प्रॉसेस से इस प्रतिमा को छह माह में तैयार किया है। प्रति को महाराणा प्रताप की जयंती पर जयपुर से अयोध्या रवाना किया गया।

जयपुर। मातृभूमि की रक्षा और स्वाभिमान के लिए सर्वस्व न्यौछावर करने वाले वीर साहसी व शौर्य के प्रतीक महाराणा प्रताप की विशाल, आकर्षक प्रतिमा, उनकी जयंती के अवसर पर जयपुर से अयोध्या में स्थापित होने के लिए रविवार को पुष्पवर्षा के बीच रवाना की गई। यह प्रतिमा जयपुर के शिल्पी महावीर भारती ने लॉस्ट वैक्स प्रॉसेस से बनाई है।

रवानगी से पूर्व प्रतिमा का पूजन
जयपुर में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत प्रचारक डॉ. शैलेंद्र, राजसमंद सांसद दीया कुमारी, बाल संरक्षण आयोग की पूर्व अध्यक्ष मनन चतुर्वेदी सहित कई प्रमुख सामाजिक हस्तियों ने प्रतिमा के समक्ष पुष्पांजलि अर्पित कर पूजा-अर्चना की। इसके बाद सज्जित वाहन से प्रतिमा अयोध्या के लिए रवाना की गई। प्रसिद्ध धार्मिक नगरी अयोध्या के सरयू तट पर स्थापित होने के बाद प्रतिमा का अनावरण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे। प्रतिमा का निर्माण अखिल भारतीय क्षत्रिय कल्याण परिषद ने करवाया है।

जयपुर के महावीर भारती ने बनाई है प्रतिमा
प्रतिमा के मूर्तिकार महावीर भारती ने बताया कि यह प्रतिमा महाराणा प्रताप की कदकाठी के अनुसार बनाई गई है, जिसमें उनका तेज, रौबीला चेहरा, चौड़ा सीना, मजबूत बाजू, योद्धा की पोशाक सहित चेतक को बहुत फुर्तीला दिखाया गया है। पूरे कवच सहित युद्ध के लिए तैयार लॉस्ट वैक्स प्रॉसेस से बनी प्रतिमा का वजन 1500 किग्रा व इसकी ऊंचाई 12 फुट है। इसे बनाने में लगभग 6 माह लगे है। मेटेलिक कलर के साथ पूरी प्रतिमा लेमिनेशन की गई है।
उल्लेखनीय है कि भगवान राम की जन्मस्थली अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के साथ-साथ राष्ट्र निर्माण भी हो रहा है। इसी कड़ी में राष्ट्र स्वाभिमान के प्रतीक महाराणा प्रताप की प्रतिमा अयोध्या सर्किट में स्थापित की जाएगी। प्रतिमा को जयपुर के शिल्पकारों ने बड़ी बारीकी से तैयार किया है। यह प्रतिमा चेतक पर बैठे महाराणा प्रताप की अब तक बनी प्रतिमाओं से कुछ अलग है।

 

Comments
user profile image
ASHOK MOURYA
on Jun 14 2021 09:46:25

अति उत्तम जी

Also read: प्रधानमंत्री के केदारनाथ दौरे की तैयारी, 400 करोड़ की योजनाओं का होगा लोकार्पण ..

Osmanabad Maharashtra- आक्रांता औरंगजेब पर फेसबुक पोस्ट से क्यों भड़के कट्टरपंथी

#Osmanabad
#Maharashtra
#Aurangzeb
आक्रांता औरंगजेब पर फेसबुक पोस्ट से क्यों भड़के कट्टरपंथी

Also read: कांग्रेस विधायक का बेटा गिरफ्तार, 6 माह से बलात्‍कार मामले में फरार था ..

केरल में नॉन-हलाल रेस्तरां चलाने वाली महिला को इस्लामिक कट्टरपंथियों ने बेरहमी से पीटा
रवि करता था मुस्लिम लड़की से प्यार, मामा और भाई ने उतारा मौत के घाट

कथित किसानों का गुंडाराज

  कथित किसान आंदोलन स्थल सिंघु बॉर्डर पर जिस नृशंसता के साथ लखबीर सिंह की हत्या की गई, उससे कई सवाल उपजते हैं। यह घटना पुलिस तंत्र की विफलता पर सवाल तो उठाती ही है, लोकतंत्र की मूल भावना पर भी चोट करती है कि क्या फैसले इस तरीके से होंगे? किसान मोर्चा भले इससे अपना पल्ला झाड़ रहा हो परंतु वह अपनी जवाबदेही से नहीं बच सकता। मृतक लखबीर अनुसूचित जाति से था परंतु  विपक्ष की चुप्पी कई सवाल खड़े करती है रवि पाराशर शहीद ऊधम सिंह पर बनी फिल्म को लेकर देश में उनके अप्रतिम शौर्य के जज्बे ...

कथित किसानों का गुंडाराज