पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

खूंटी जिले के रायसेमला गांव से भागा पास्टर

WebdeskJun 18, 2021, 05:02 PM IST

खूंटी जिले के रायसेमला गांव से भागा पास्टर

कन्वर्जन से परेशान खूंटी जिले के लोग अब ईसाई मत प्रचारकों का खुलेआम विरोध करने लगे हैं। यही कारण है कि पिछले दिनों रायसेमला गांव से एक ईसाई पास्टर मसीह टोपनो भाग गया। बता दें कि रायसेमला वही गांव है, जहां लॉकडाउन के दौरान कन्वर्जन और जमीन हथियाने का काम ईसाइयों ने किया था

झारखंड में ईसाई मत प्रचारकों और पादरियों के विरुद्ध 11 जून को प्रारंभ हुआ अभियान अपना रंग दिखाने लगा है। पता चला है कि विरोध के कारण खूंटी जिले के रायसेमला गांव से एक पास्टर भाग गया है। उल्लेखनीय है कि रायसेमला वही गांव है, जहां पिछले दिनों ईसाइयों ने हिंदुओं का सामाजिक बहिष्कार कर दिया था। जो लोग ईसाई बन गए थे, वे लोग हिंदुओं पर ईसाई बनने का दबाव डाल रहे थे। जिन लोगों ने ऐसा नहीं किया था, उन्हें चर्च के इशारे पर गांव के कुएं से पानी नहीं भरने दिया जा रहा था। यही नहीं, गांव में जो चर्च बना है, उसके लिए छल से एक हिंदू की जमीन पर कब्जा कर लिया गया था। इन सबको देखते हुए सामाजिक कार्यकर्ता प्रिया मुंडा ने गांव—गांव से पादरी भगाओ अभियान शुरू किया है। अभियान का प्रारंभ रायसेमला गांव में हुई एक पंचायत के बाद हुआ था। 11 जून को हुई इस पंचायत में निर्णय लिया गया था कि गांव में किसी पादरी को घुसने नहीं दिया जाएगा और जो पहले से ही गांव में रहकर कन्वर्जन का काम कर रहे हैं, उन्हें भगाया जाएगा। इसके साथ ही ग्रामीणों ने यह भी निर्णय लिया कि जो लोग ईसाई मत अपनाएंगे, उनका सामाजिक बहिष्कार किया जाएगा। इसके अन्तर्गत गांव के लोग ईसाई बने परिवारों से रोटी—बेटी का संबंध नहीं रखेंगे। उन्हें स्थानीय जंगलों से लकड़ी नहीं काटने दिया जाएगा। यही नहीं, यदि ईसाई बन चुका कोई व्यक्ति मर गया तो उसे गांव के श्मशान में जगह नहीं दी जाएगी।
इस अभियान के साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों को ज्ञापन देकर बताया जा रहा है कि किस तरह ईसाई 2017 में बने कन्वर्जन कानून का खुलेआम उल्लंघन कर रहे हैं। इस कानून के अनुसार किसी का कन्वर्जन करने से पहले प्रशासन से लिखित अनुमति लेनी पड़ती है, लेकिन कन्वर्जन करने वाले इस नियम को तनिक भी नहीं मान रहे हैं। पिछले दिनों खूंटी के उपायुक्त को एक ज्ञापन दिया गया है। इसमें मांग की गई है कि जो लोग 2017 के कनवर्जन कानून का उल्लंघन कर रहे हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए।

 

Comments
user profile image
Anonymous
on Jun 20 2021 06:18:46

लोग जाग रहे है।

user profile image
Anonymous
on Jun 19 2021 09:08:49

Good News

Also read: ऐसी दीवाली! कैसी दीवाली!! ..

kashmir में हिंदुओं पर हमले के पीछे ISI कनेक्शन आया सामने | Panchjanya Hindi

kashmir में हिंदुओं पर हमले के पीछे ISI कनेक्शन आया सामने | Panchjanya Hindi

Also read: हिन्दू होने पर शर्मिंदा स्वरा भास्कर, पर तब क्यों हो जाती हैं खामोश ? ..

श्री सौभाग्य का मंगलपर्व
तो क्या ताइवान को निगल जाएगा चीन! ड्रैगन ने एक बार फिर किए तेवर तीखे

गुरुग्राम में खुले में नमाज का बढ़ रहा विरोध

खुले में नमाज के खिलाफ गुरुग्राम में लोग सड़कों पर उतरने लगे हैं। सेक्‍टर-47 के बाद शुक्रवार को बड़ी संख्‍या में हिंदुओं ने खुले में नमाज का विरोध किया।     गुरुग्राम में खुले में नमाज के खिलाफ लोग लामबंद होने लगे हैं। सेक्‍टर-47 के बाद शुक्रवार को सेक्‍टर-12 में भी खुले में नमाज के खिलाफ बड़ी संख्‍या में लोग उतरे। स्‍थानीय लोगों के साथ विश्‍व हिंदू परिषद, बजरंग दल सहित अन्‍य संगठन भी आ गए। स्‍थानीय लोगों और हिंदू संगठनों का कहना है क ...

गुरुग्राम में खुले में नमाज का बढ़ रहा विरोध