पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

टीएमसी के गुंडे मोहम्मद बिटन ने भाजपा कार्यकर्ता पर किया जानलेवा हमला तो उत्तर 24 परगना में एक कार्यकर्ता को किया गया अगवा

WebdeskJun 18, 2021, 02:33 PM IST

टीएमसी के गुंडे मोहम्मद बिटन ने भाजपा कार्यकर्ता पर किया जानलेवा हमला तो उत्तर 24 परगना में एक कार्यकर्ता को किया गया अगवा

डॉ अम्बा शंकर बाजपेयी  

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद से सत्तारूढ़ तृणमूल पार्टी द्वारा जारी राजनीतिक हमलों—हत्याओं का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी कड़ी में नदिया जिले में भाजपा के 19 वर्षीय युवा कार्यकर्ता राज देबनाथ पर तृणमूल कांग्रेस के गुंडे मोहम्मद बिटन शेख और उसके गैंग ने जानलेवा हमला किया तो वहीं उत्तर 24 परगना में भी एक कार्यकर्ता को उसके घर से अगवा कर लिया गया
 

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद सत्तारूढ़ तृणमूल पार्टी द्वारा जारी राजनीतिक हमलों—हत्याओं का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी कड़ी में नदिया जिले में भाजपा के 19 वर्षीय युवा कार्यकर्ता राज देबनाथ पर तृणमूल कांग्रेस के गुंडे मोहम्मद बिटन शेख और उसके गैंग ने जानलेवा हमला किया। हमले के बाद से देबनाथ की हालात गंभीर बनी हुई है।
 
गौरतलब है कि देबनाथ पर जानलेवा हमला पहली बार हुआ हो, ऐसा नहीं है। बिटन शेख व उसके गैंग द्वारा बीती 17 अप्रैल को भी हमला किया जा चुका है। इस हमले में देबनाथ को इन जिहादियों ने इतना मारा था कि मरा समझकर छोड़कर चले गए। पर वह किसी तरह बच गए। जब इसकी भनक मोहम्मद शेख व उसके गैंग को लगी कि देबनाथ जिंदा है तो फिर से इन अराजक तत्वों ने देबनाथ पर जानलेवा हमला कर दिया। हमले के बाद परिजनों ने उन्हें नदिया के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहाँ हालत नाजुक बनी हुई है।


एक और कार्यकर्ता को किया है अगवा
   
राज्य में तृणमूल कांग्रेस के गुंडों द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं को चुन—चुनकर मारने, अपहरण करने के बाद उनकी हत्या की जा रही हैं। इसी क्रम में बीते दिनों 24 उत्तर परगना के हालिसहर में तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने भाजपा के एक युवा कार्यकर्ता को उसके घर से अगवा कर लिया। पर आज तक पुलिस ने रिपोर्ट नहीं लिखी। उसका अपहरण क्यों किया गया ? कहां रखा गया है ? इसकी कोई जानकारी नहीं है।

राज्य में बना भय का वातावरण
 
विधानसभा चुनाव के बाद से पूरे प्रदेश में हुई राजनीतिक हिंसा,आगजनी व तोड़फोड़ की असंख्य घटनाओं से भय का ऐसा वातावरण बन गया है कि विभिन्न इलाकों से लोगों ने पलायन किया हुआ है। लाखों लोग सीमांत प्रदेशों में शरण लिए हुए हैं। करोड़ों रुपए की संपत्ति और दुकान—मकान और प्रतिष्ठानों को तृणमूल के गुंडों ने जलाकर राख किया। भाजपा के आधिकारिक बयान के अनुसार अभी तक उसके 45 कार्यकर्ताओं की हत्याएं हो चुकी हैं।
 

Comments
user profile image
Anonymous
on Jun 19 2021 10:22:44

केन्द्र को प्रदेश के प्रसाशन मे हस्तक्षेप करना चाहिए अन्यथा बहुत देर हो जायेगी।

Also read: प्रधानमंत्री के केदारनाथ दौरे की तैयारी, 400 करोड़ की योजनाओं का होगा लोकार्पण ..

Osmanabad Maharashtra- आक्रांता औरंगजेब पर फेसबुक पोस्ट से क्यों भड़के कट्टरपंथी

#Osmanabad
#Maharashtra
#Aurangzeb
आक्रांता औरंगजेब पर फेसबुक पोस्ट से क्यों भड़के कट्टरपंथी

Also read: कांग्रेस विधायक का बेटा गिरफ्तार, 6 माह से बलात्‍कार मामले में फरार था ..

केरल में नॉन-हलाल रेस्तरां चलाने वाली महिला को इस्लामिक कट्टरपंथियों ने बेरहमी से पीटा
रवि करता था मुस्लिम लड़की से प्यार, मामा और भाई ने उतारा मौत के घाट

कथित किसानों का गुंडाराज

  कथित किसान आंदोलन स्थल सिंघु बॉर्डर पर जिस नृशंसता के साथ लखबीर सिंह की हत्या की गई, उससे कई सवाल उपजते हैं। यह घटना पुलिस तंत्र की विफलता पर सवाल तो उठाती ही है, लोकतंत्र की मूल भावना पर भी चोट करती है कि क्या फैसले इस तरीके से होंगे? किसान मोर्चा भले इससे अपना पल्ला झाड़ रहा हो परंतु वह अपनी जवाबदेही से नहीं बच सकता। मृतक लखबीर अनुसूचित जाति से था परंतु  विपक्ष की चुप्पी कई सवाल खड़े करती है रवि पाराशर शहीद ऊधम सिंह पर बनी फिल्म को लेकर देश में उनके अप्रतिम शौर्य के जज्बे ...

कथित किसानों का गुंडाराज