पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

चर्चित आलेख

जम्मू-कश्मीर में अभूतपूर्व शांति और प्रगति हुई—प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

WebdeskAug 05, 2021, 03:45 PM IST

जम्मू-कश्मीर में अभूतपूर्व शांति और प्रगति हुई—प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी


जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 निरस्त होने की आज दूसरी वर्षगांठ है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दो साल पहले अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के बाद से जम्मू-कश्मीर में अभूतपूर्व शांति और प्रगति हुई है।


 

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 निरस्त होने की आज दूसरी वर्षगांठ है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दो साल पहले अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के बाद से जम्मू-कश्मीर में अभूतपूर्व शांति और प्रगति हुई है। भारत सरकार ने पांच अगस्त, 2019 को अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू—कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त कर दिया था। उन्होंने कहा कि दो साल पहले आज ही के दिन नए जम्मू-कश्मीर की दिशा में पहला बड़ा कदम उठाया गया था।


नरेंद्र मोदी की निजी वेबसाइट के आधिकारिक अकाउंट से ट्वीट करके लिखा गया है कि 'एक ऐतिहासिक दिन। दो साल पहले #NewJammuKashmir की दिशा में पहला बड़ा कदम उठाया गया था। तब से इस क्षेत्र में अभूतपूर्व शांति और प्रगति हुई है। ट्वीट में आगे लिखा है कि अनुच्छेद 370 पर सूचनात्मक सामग्री, ग्राफिक्स और बहुत कुछ जानने के लिए नमो ऐप पर अपने वॉयस सेक्शन पर जाएं।  

उल्लेखनीय गृह मंत्रालय ने पिछले हफ्ते ही संसद को बताया था कि जम्मू—कश्मीर में पिछले दो सालों में आतंकी हिंसा में कमी आई है। राज्यसभा में एक लिखित सवाल के जवाब में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कहा कि वर्ष, 2020 के दौरान उसके पिछले साल के मुकाबले 59 फीसदी आतंकी घटनाएं कम हुई हैं। 

Follow Us on Telegram

Comments
user profile image
मा0 रामप्रकाष गुप्ता
on Aug 08 2021 07:54:54

मोदी है तो सम्भव है ।

Also read: प्रधानमंत्री के केदारनाथ दौरे की तैयारी, 400 करोड़ की योजनाओं का होगा लोकार्पण ..

Osmanabad Maharashtra- आक्रांता औरंगजेब पर फेसबुक पोस्ट से क्यों भड़के कट्टरपंथी

#Osmanabad
#Maharashtra
#Aurangzeb
आक्रांता औरंगजेब पर फेसबुक पोस्ट से क्यों भड़के कट्टरपंथी

Also read: कांग्रेस विधायक का बेटा गिरफ्तार, 6 माह से बलात्‍कार मामले में फरार था ..

केरल में नॉन-हलाल रेस्तरां चलाने वाली महिला को इस्लामिक कट्टरपंथियों ने बेरहमी से पीटा
रवि करता था मुस्लिम लड़की से प्यार, मामा और भाई ने उतारा मौत के घाट

कथित किसानों का गुंडाराज

  कथित किसान आंदोलन स्थल सिंघु बॉर्डर पर जिस नृशंसता के साथ लखबीर सिंह की हत्या की गई, उससे कई सवाल उपजते हैं। यह घटना पुलिस तंत्र की विफलता पर सवाल तो उठाती ही है, लोकतंत्र की मूल भावना पर भी चोट करती है कि क्या फैसले इस तरीके से होंगे? किसान मोर्चा भले इससे अपना पल्ला झाड़ रहा हो परंतु वह अपनी जवाबदेही से नहीं बच सकता। मृतक लखबीर अनुसूचित जाति से था परंतु  विपक्ष की चुप्पी कई सवाल खड़े करती है रवि पाराशर शहीद ऊधम सिंह पर बनी फिल्म को लेकर देश में उनके अप्रतिम शौर्य के जज्बे ...

कथित किसानों का गुंडाराज